कोरोना से जंग के लिए आगे आया वर्ल्ड बैंक, एक अरब डॉलर की आपातकालीन वित्तीय सहायता

लॉकडाउन और इससे होने वाले आर्थिक नुकसान को देखते हुए, विश्व बैंक ने भारत को वित्तीय सहायता प्रदान करने की घोषणा की है।

World bank (वर्ल्ड बैंक) भी Coronavirus (कोरोना वायरस) महामारी पर भारत का समर्थन करने के लिए आगे आया है। Lockdown (लॉकडाउन) और इससे होने वाले आर्थिक नुकसान को देखते हुए, विश्व बैंक ने भारत को वित्तीय सहायता प्रदान करने की घोषणा की है। विश्व बैंक ने गुरुवार को भारत सरकार को कोरोना वायरस से निपटने के लिए एक अरब डॉलर की आपातकालीन वित्तीय सहायता की घोषणा की।

कोरोना के बाद दुनिया पर अगला संकट, इस साल बहुत जूझना…

World Bank (विश्व बैंक) ने कुछ दिनों पहले विकासशील देशों को कोरोना वायरस संक्रमण से निपटने में मदद करने की घोषणा की। 25 देशों को विश्व बैंक के 1.9 बिलियन डॉलर की परियोजनाओं के पहले सेट में सहायता दी जाएगी और 40 से अधिक देशों में त्वरित गति से नए अभियान चलाए जा रहे हैं। भारत को आपातकालीन धन का सबसे बड़ा हिस्सा दिया जाएगा, जो एक बिलियन डॉलर होगा।

रिलायंस इंडस्ट्रीज को पड़ी 25 हजार करोड़ की जरूरत, इस तरह…

World Bank (विश्व बैंक) के कार्यकारी निदेशकों ने दुनिया भर के विकासशील देशों के लिए आपातकालीन सहायता के पहले सेट को मंजूरी दे दी, जिसके बाद विश्व बैंक ने कहा, “भारत में एक अरब डॉलर के आपातकालीन वित्तपोषण से बेहतर ढ़ग से जांच, निजी सुरक्षा उपकरणों की खरीदारी और नई पृथक इकाइयों की स्थापना में मदद मिलेगी।” और नए अलग वार्ड बनाने से मदद मिलेगी। इसके साथ ही विश्व बैंक ने Pakistan (पाकिस्तान) को 200 मिलियन डॉलर देने की घोषणा की है। Afghanistan (अफगानिस्तान) को 10 करोड़ डालर, Maldives (मालदीव) को 73 लाख डॉलर और sri lanka (श्रीलंका) को 12.86 करोड़ डालर की मंजूरी दी है।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है