क्यूं मनाया जाता है गुड फ्राइडे

0
79

काले दिन के नाम से मनाए जाने वाला त्यौहार आना वाला है। जिसे पूरा देश काफी धूमधाम और उत्साह के साथ मनाया जाता है।

गुड फ्राइडे ईसाई समुदाय का प्रमुख त्यौहार है। ईसाई समुदाय के लोग इस पर्व को काले दिवस के रूप में भी मनाते हैं। आपको बता दें कि इस त्योहार को कई अन्य नामों से भी जाना जाता हैं। जैसे ब्लैक फ्राइडे, होली फ्राइडे या ग्रेट फ्राइडे के नाम से भी मनाया जाता है। ईसाई समुदाय की मान्यता के अनुसार, गुड फ्राइडे के दिन ही ईसा मसीह को सूली पर चढ़ाया गया था। इसलिए इस दिन को ब्लैक डे यानी काले दिन के नाम से मनाया जाता हैं।

हनुमान जयंती: CM केजरीवाल और PM मोदी ने देशवासियों को कुछ ऐसे दी…

इस साल गुड फ्राइडे 10 अप्रैल के दिन मनाया जाएगा। ये दिन देश और दुनिया में एक धार्मिक पर्व की तरह धूमधाम और उत्साह के साथ मनाया जाता है। आपको बता दें कि ईसाई मान्यताओं के अनुसार ये पर्व ईसा मसीह को याद करने के लिए भी मनाया जाता है। ईसा मसीह प्रेम और शांति के मसीहा भी माने जाता है। लेकिन दुनिया को करुणा का संदेश देने वाले ईसा मसीह को उस समय के धार्मिक कट्टरपंथी ने रोम के शासक से शिकायत करके उन्हें सूली पर लटका दिया था। हालांकि कहते हैं कि ईसा मसीह इस घटना के तीन दिन बाद पुनः जीवित हो उठे थे।

अप्रैल में आने वाले है ये कुछ खास त्यौहार, जानें सभी की तारीखेंइडे-

कैसे मनाया जाता है गुड फ्रा

ईसाई समुदाय के लोग गुड फ्राइडे के दिन ईसाई समुदाय के लोग गिरजाघरों में प्रार्थना करने के लिए जाते हैं। आपको बता दें कि इस दिन गिरजाघरों में घंटा नहीं बजाया जाता है, बल्कि लकड़ी के खटखटे बजाए जाते हैं। लोग चर्च में क्रॉस को चूमकर उनका स्मरण करते हैं। इस दिन दान-धर्म के कार्य भी किए जाते हैं। इस दिन दान करना शुभ माना जाता है। हालांकि इस साल पूरी दुनिया कोरोना वायरस के कहर से पीड़ित है। इसलिए गुड फ्राइडे की रौनक इस साल फीकी रहेगी।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं