ये दुकानदार बुजुर्ग और बीमारों को फ्री में देता है सब्जियां, देखें तस्वीरें

फेनाज सिधेक ने कक्कांड में एक सब्जी की दुकान खोली, तो उन्होंने इस बात का फैसला किया कि वो कैंसर पेशंट को फ्री में सब्जियां दिया करेंगे।

कहते हैं कुछ लोग दिल के बहुत ही साफ होते हैं ऐसे ही कुछ लोगों में शामिल है। केरल के फेनाज सिधेक, जो अच्छाई में विश्वास रखते हैं। उनकी अच्छाई के नजारा तब देखने को मिला जब उन्होंने कक्कांड में एक सब्जी की दुकान खोली, तो उन्होंने इस बात का फैसला किया कि वो कैंसर पेशंट को फ्री में सब्जियां दिया करेंगे। जी हां, उनकी दुकान में सिर्फ सब्जियां ही नहीं, बल्कि उनके पास कुछ खूबसूरत कहानियां भी है।

साबुन है कोरोना वायरस से लड़ने का मजबूत हथियार !, सैनिटाइजर…

ये दुकानदार बुजुर्ग और बीमारों को फ्री में देता है सब्जियां, देखें तस्वीरें

क्रैनबेरिज खाने के ये 9 फायदे जानकर छोड़ देंगे दूसरे फल

लोग देते हैं दुआएं

फेनाज ने एक अख्बार को बताया कि, “एक बुजुर्ग महिला दुकान का बोर्ड पढ़कर उनके पास आई थी। उन्होंने उसे हफ्ते भर के लिए सब्जियां दीं। वह बेहद खुश हुई। जबकि किसी दुकानदार द्वारा दान करना नया नहीं है। दादी ने उनसे कहा था कि वह एक हफ्ते तक अपने परिवार को सब्जियां पकाकर खिलाएंगी। और हां, उन्होंने शुक्रिया कहने के लिए फेनाज का माथा चूमा था”।

कोई नहीं जाता खाली हाथ

हालांकि, दुकान पर लगा बोर्ड भी यहीं बताता है कि सब्जियां कैंसर पेशंट को फ्री में दी जाएगी। लेकिन यह उन सभी लोगों को दी जाती हैं, जो बीमार, बूढ़ें और संकट का सामना कर रहे होते हैं। कई जरूरतमंद लोग इस दुकान पर आकर साथ में मेडिकल डॉक्यूमेंट लाते हैं तो कई लोग डॉक्टर के प्रिसक्रिप्शन लाते हैं। इनमें कुछ ऐसे भी होते हैं, जो यह सोचते हैं कि कैसे मदद मांगे। लेकिन इस दुकान से कोई भी इंसान खाली हाथ नहीं जाता!

मिडिल-ईस्ट में कर चुके हैं काम

बता दें जरूरतमंदों को फ्री में सब्जियां देने के साथ ही उनकी कई दुकानों पर सब्जियां कम कीमतों पर भी बेची जाती हैं। फेनाज कहते हैं, “पूरे साल सब्जियों की कीमतों में उतार-चढ़ाव चलता है। लेकिन कीमतों में कमी से शायद ही ग्राहकों को फर्क पड़ता है। इसलिए उन्हें थोड़ा सस्ता बेचने से वेंडर को घाटा नहीं पहुंचेगी। उन्होंने कुछ साल मिडिल-ईस्ट में काम किया। फिर वह भारत लौटे और फार्मिंग के क्षेत्र में कदम रखने से पहले पूरे एक साल तक मार्केट की पढ़ाई की”। उनका यह कदम यकीनन काबिले तारीफ है।

 AB STAR NEWS के  ऐप को डॉउनलोउड  कर सकते. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं