देश में ना होता लॉकडाउन तो कुछ ऐसी होती, स्थिति

भारत में स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार अभी तक 1,965 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं।

कोरोना वायरस का प्रकोप पूरी दुनिया पर देखने को मिल रहा है। जिसे हर एक देश लड़ने की कोशिश कर रहा हैं। तो वहीं भारत में स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार अभी तक 1,965 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। जिसमें से 50 लोगों की मौत हो चुकी हैं।

बता दें कि एक स्टडी के मुताबिक अगर कोरोना के दौरान सरकार देश में बंद न करती तो अभी तक संक्रमित लोगों की अनुमानित संख्या 2,70,360 तक पहुंच जाती और 5,407 लोगों की मौत हो जाती। इसको लेकर शिव नादर विश्वविद्यालय के सहायक प्रोफेसर समित भट्टाचार्य ने कहा, ‘’हम यह भी मानते हैं कि इससे 80 से 90 फीसदी लोग सामुदायिक दूरी में रह रहे हैं.’’ अनुसंधानकर्ताओं का मानना है कि देश में लॉकडाउन यानी बंद की वजह से संक्रमण का एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में संचार होने की गति धीमी हुई हैं और संक्रमण के मामले भी कम हुए हैं।

दुनियाभर में कोरोना का कहर, जाने आकड़े

विश्वविद्यालय के सहायक प्रोफेसर नागा सुरेश विरापु ने कहा, ‘’हमारा अनुमान इस ओर इशारा करता है कि भारत में अगले 10 से 20 दिन में क्रमश:5,000 से 30,790 तक लक्षण वाले मामले हो सकते हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘’ अगर बंद के रूप में हस्तक्षेप नहीं किया जाता तो अनुमानित संख्या 2,70,360 तक पहुंच जाती और 5,407 लोगों की मौत होती.’’

लेकिन अभी भी लोग इसका उल्लघन कर रहे हैं। जिसके कारण भारत में कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं। हाल ही में दिल्ली के निजामुद्दीन में तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल हुए लोगों ने कोरोना का खतरा बढ़ा दिया हैं। जिसके बाद बीते कई दिनों में कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी आई हैं।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं