कोरोना के दौर में ठप पड़े कार्यों को मिलेगी रफ्तार, टूरिस्ट को लुभाने में जुटे कई राज्य –

0
112

फिर शुरु होगा घुमने का दौर

कोरोना काल में ठप पड़ी सारी गतिविधियों को सरकार ने फिर से शुरु करने का फैसला किया है। इस साल कोरोना वायरस के कारण सभी राज्यों के पर्यटन स्थानों को भी बंद कर दिया गया था। हालांकि इन राज्यों में यात्रा करने के लिए कुछ नियमों का पालन करना होगा। पर्यटन को धीरे- धीरे खोला तो जा रहा है, लेकिन अभी भी कोरोना वायरस का खतरा बना हुआ है, इसलिए यात्रा करते दौरान कुछ सावधानी बरतने की आवश्यकता है।

हिमाचल प्रदेश में जाते वक्त करना होगा इन नियमों का पालन –

आमतौर पर हिमाचल प्रदेश को लेकर लोगों में हमेशा उत्सुक्ता रहती है, लेकिन कोरोना की वजह से यहां पिछले कई महीनों से सन्नाटा फैला हुआ था। अब एक बार फिर पर्यटकों के लिए हिमाचल को खोल दिया गया है। आइए जानते हैं हिमाचल में किन नियमों का पालन करना होगा. हिमाचल प्रदेश में घूमने जाने के लिए पहले आपको कोरोना का टेस्ट करवाना होगा। फिर जिन लोगों की  रिपोर्ट निगेटिव होगी उन्हें ही प्रवेश करने की अनुमति होगी। इसके साथ ही कोरोना की रिपोर्ट तीन दिन से अधिक पुरानी नहीं होनी चाहिए। इसके बाद आपको पास बनवाना पड़ेगा और गाड़ी भी रजिस्टर करानी पड़ेगी। हिमाचल प्रदेश में जाने की अनुमति उन्हीं लोगों को मिलेगी जो कम से कम 5 दिन की यात्रा के लिए होंगे। होटल की बुकिंग भी कम से कम 5 दिनों के लिए करानी  होगी।

उत्तराखंड में करना होगा इन नियमों का पालन –

उत्तराखंड को भी अब दर्शकों के लिए खोल दिया गया है। हिमाचल प्रदेश से जुड़े सभी नियम यहाँ भी लागू होंगे। इसके साथ ही यहां पर कंटेनमेंट जोन्स के लोगों को आने की अनुमति नहीं होगी। उत्तराखंड में सभी रेस्त्रां सुबह 7 बजे से शाम के 7 बजे तक ही खुले रहेंगे। और इस समय उत्तराखंड की चार धाम यात्रा सिर्फ राज्य के लोगों के लिए ही खोली गई है।

गोवा में करना होगा इन नियमों का पालन –

अभी गोवा को सिर्फ भारतीयों के लिए खोला गया है। गोवा जाने के लिए भी आपको कोरोना टेस्ट करवाना पड़ेगा।  जो लोग कोरोना का टेस्ट नहीं करवा पाएँगे, उनके लिए डाबोलिम एयरपोर्ट में कोरोना टेस्ट की सुविधा होगी। रिपोर्ट के आने तक क्वारंटाइन रहना होगा। जो लोग कोरोना का टेस्ट नहीं करवाएंगे उन्हें 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन रहना होगा, उसके बाद ही वे गोवा की सैर कर सकते हैं।

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है