दुनियाभर के लिए मसीहा बने पीएम मोदी

कोरोना से बचाव में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा उठाए गए कदम की तारीफ न सिर्फ देशवासी ही नहीं बल्कि WHO भी कर रहा है। पूरी दुनिया के लिए मसीहा बनकर उभरे पीएम मोदी

चीन के वुहान से शुरू हुए कोरोना वायरस से आज पूरी दुनिया परेशान हैं। दुनियाभर में कोरोना के कारण हजारों लोगों की मौत हो गई है। जबकि लाखों लोग इस वायरस के संक्रमित हैं। तो इसी बीच भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कोरोना वायरस से बचाव के लिए शानदार कदम उठाया है। जिससे भारत की स्थिति अन्य देशों के मुकाबले काफी बेहतर है।

इसी बीच अमेरिकी के राष्ट्रपति डोनाल्ड ड्रंप जहां भारत के प्रधानमंत्री मोदी की तारीफों करते नहीं रूक रहें। तो वहीं दूसरी ओर ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोलसोनारो ने भी मोदी को राष्ट्र के नाम संबोधन में धन्यवाद कहा। इससे पहले भी बोलसोनारो ने पत्र लिखकर भी मोदी को शुक्रिया कहा था।

कोरोनाः टैबलेट सप्लाई पर पीएम के मुरीद हुए डोनाल्ड ट्रंप, कहा- थैंक्यू पीएम मोदी

दुनियाभर के लिए मसीहा बने पीएम मोदी

आपको बता दें कि WHO भी पीएम मोदी के द्वारा किए गए प्रयासों की तारिफ कर रहा है। साथ ही निर्वासन में रह रहे गुलाम कश्मीर और गिलगित बल्टिस्तान के नेताओं ने भी कोरोना की जंग लड़ने के लिए मोदी द्वारा किए गए प्रयासं की सराहना की। इसके अलावा ग्लासगो में रहने वाले पीओके के एक राजनीतिक नेता डॉ. अमजद अयूब मिर्जा ने मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि ‘यह एक बहुत ही सराहनीय कार्य है कि प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना वायरस पर काबू पाने के लिए ‘जनता कर्फ्यू’ की घोषणा की. मोदी के नेतृत्व पर गौर करना चाहिए।’

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने SAARC देशों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए कोरोना से निपटने पर भी चर्चा करते हुए रणनीति बनाने पर पहल की थी और कोरोना जैसे महामारी से निपटने के लिए मिलकर काम करने की बात कही थी। जिस पहल से दक्षिण एशियाई देशों के नेता ने सिर्फ सहमति ही नहीं बल्कि उनकी तारिफ भी की।

राहुल गांधी ने डोनाल्ड ट्रम्प और पीएम मोदी पर साधा निशाना, कहा- मित्रों’ में…

दरअसल इस समय यह बात कहीं जा रही है कि मलेरिया की दवा कोरोना के इलाज में कामगार है। जोकि हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा है। हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा के लिए बोलसोनारो ने मदद मांगी हैं। इसके लिए बोलसोनारो ने मंगलवार को भारत के पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा था। इस पत्र में रामायण के एक प्रसंग के बारे में भी बात करी है। इसमें बोलसोनारो ने लिखा था कि जैसे हनुमानजी ने भगवान श्री राम के भाई लक्ष्मण की जान बचाने के लिए दवा लेकर आए थे और ईसा मसीह ने बीमार लोगों को ठीक किया था वैसे ही भारत और ब्राजील भी साथ मिलकर इस महामारी से निजात पा सकते हैं।

AB STAR NEWS के  ऐप को डॉउनलोउड  कर सकते. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं