Kerala: मंदिर परिसर में ब्राह्मणों के लिए अलग टॉइलट

केरल के  मंदिर में ब्राह्मणों के लिए एक अलग टॉइलट की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। जिसमें “इस टॉइलट की सुविधा सिर्फ ब्राह्मणों के लिए है” लिखा हुआ है

केरल के त्रिशूर जिले के कुट्टमक्कु महादेवा मंदिर उस वक्त चर्चा में आ गया जब मंदिर में ब्राह्मणों के लिए अलग से बनाए गए टॉइलट की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। इस तस्वीर के वायरल होते ही मामले को लेकर विवाद बढ़ने लगा जिसके बाद कोचीन देवस्वम बोर्ड ने गुरुवार को मामले की जांच शुरू कर दी है। बता दें मामला बुधवार को तब प्रकाश में आया जब त्रिशूर के शोध छात्र अरविंद जी क्रिस्टो ने मंदिर में लगे एक साइन बोर्ड की तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर की। शेयर की गई तस्वीर में साइन बोर्ड पर लिखा था, “इस टॉइलट की सुविधा सिर्फ ब्राह्मणों के लिए है”।

CAA को केरल सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में दी चुनौती, ऐसा करने वाला देश…

क्रिस्टो ने कहा, “मैं मंदिर के एक उत्सव में हिस्सा लेने के लिए गया था। जब मैंने वहां पर ब्राह्मणों के लिए एक अलग टॉइलट का बोर्ड देखा, तो मैं चौंक गया और उसकी फोटो खींच ली। मैंने इसे सोशल मीडिया पर पोस्ट किया और अब यह वायरल हो गई है। मुझे खुशी है कि अब उस साइन बोर्ड को हटा दिया जाएगा”। कुट्टमक्कु महादेवा मंदिर के सचिव प्रेमकुमारन ने कहा, “यह बोर्ड 25 साल से लगा हुआ था, मंदिर समिति ने भी अभी तक इस पर ध्यान नहीं दिया था। जब इसे हमारे संज्ञान में लाया गया तो हमने तुरंत इसे हटा दिया।’ उन्होंने कहा, ‘वह साइन बोर्ड पूरी तरह से अनैतिक था और हम केरल जैसे विकसित समाज में इस तरह की प्रथाओं को मंजूरी नहीं दे सकते”।

सबरीमाला मंदिर के खुलेंगे सबके लिए द्वार, महिलाओं की सुरक्षा को लेकर केरल सरकार…

कुट्टमक्कु महादेवा मंदिर के सचिव प्रेमकुमारन ने छात्र अरविंद जी क्रिस्टो को लेकर कहा कि जिस युवा ने ये तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर की है। उसने हमें इस बारे में जानकारी नहीं दी। बल्कि उसने सोशल मीडिया के सहारे मंदिर की छवि को खराब करने का काम किया। देवस्वम समिति ने युवाओं के खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज करने की योजना बनाई है।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं