हैदराबाद यूनिवर्सिटी की डॉक्टर ने बनाया कोरोना वायरस का टीका

देश में कोरोना के बढ़ते कहर के बीच हैदराबाद यूनिवर्सिटी की डॉक्टर ने बनाया कोरोना वायरस का टीका।

दुनिया के लिए गले की फांस बन चुके कोरोना वायरस से दुनिया के 175 देश संक्रमित हैं। करीब 6 हजार से ज्यादा लोग इस वायरस के चपेट में आ चुके हैं। वायरस के इस बढ़ते कहर के बीच हैदराबाद यूनिवर्सिटी में जैव रसायन विभाग के स्कूल ऑफ लाइफ साइंसेज की संकाय सदस्य डॉक्टर सीमा मिश्रा ने इस घातक वायरस की दवा बनाने का दावा किया है। बता दें, इसकी जानकारी यूनिवर्सिटी की ओर से विज्ञप्ति जारी कर दी गई है। दावे के अनुसार, “एक टीके की खोज में लगभग 15 साल तक का समय लग जाता है, लेकिन शक्तिशाली कम्प्यूटेशनल टूल की सहायता से महज 10 दिन में ही इसका डिजाइन तैयार किया गया”।

इटली में मरने वालों की संख्या बढ़कर 10 के पार

सीमा मिश्रा ने जिस टीके का निर्माण किया है उसे टी सेल एपिटोप्स नाम दिया गया है। ये टीका इंसान की कोशिका पर कोई विपरीत प्रभाव डाले बिना इस  वायरस के सभी संरचनात्मक और गैर संरचनात्मक प्रोटीन रोकने में सक्षम माना जा रहा है। दावा ये भी किया जा रहा है की इम्यूनोइंफॉर्मेटिक्स का प्रयोग कर तैयार किया गया ये टीका कोरोनावायरस पेप्टाइड्स को नुकसान पहुंचाने वाली कोशिकाओं को नष्ट करने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाएगा। इसे  डिजाइन इस तरह से किया गया है कि पूरी आबादी को लगाया जा सके।

दुनियाभर में कोरोना वायरस का बढ़ता प्रकोप, इन देशों में तेजी से बढ़ रहे हैं आंकड़े

इस तरह का पहला अध्ययन बताते हुए यूनिवर्सिटी की ओर से यह भी कहा गया है कि इस टीका को लेकर यह परिणाम आखिर नहीं हैं। इस संबंध में डॉक्टर सीमा मिश्रा ने कहा, “अभी कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने से रोकने का सबसे अच्छा तरीका सामाजिक दूरी (सोशल डिस्टेंसिंग) है”। उन्होंने कहा, “टीका तैयार होने में अभी कुछ समय लगेगा. साथ ही उम्मीद जताई कि कम्प्यूटेशनल निष्कर्ष तेजी से प्रायोगिक परीक्षणों के लिए प्रभावी साबित होंगे”। आपको बता दें कि इस वायरस से संक्रमित लोगों के आंकड़े को देखते हुए सरकार ने 21 दिन का लॉकडाउन किया है।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं