कोरोना का खौफ: नोएडा में धारा-144 लागू

कोरोना के बढ़ते खौफ के बाद नोएडा में धारा-144 लागू, सभी सार्वजनिक कार्यक्रमों पर लगी रोक

देशभर में जारी कोरोना के कहर के आगे सरकार और प्रशासन अपनी ओर से जरूरी कदम उठा रही है। राजधानी से सटे गौतमबुद्ध नगर जिले में तो पुलिस आयुक्त ने इस घातक खतरनाक वायरस के बढ़ते कहर को देखते हुए इलाके में धारा 144 लगा दी गई है। वहीं इसके लागू होने के बाद एक जगह पर चार से ज्यादा लोगों के जमा होने पर रोक लग गई है। इसके साथ ही 5 अप्रैल तक जिले में किसी भी सामाजिक, राजनीतिक, धार्मिक, खेल, सांस्कृतिक और व्यापारिक आयोजनों की अनुमति नहीं होगी।

कोरोना को तोड़ने में भारत ने हासिल की सफलता

कोरोना के मद्देनजर नोएडा में धारा 144 लागू

गौतमबुद्ध नगर पुलिस आयुक्त मुख्यालय की ओर से जारी आदेश में कहा गया है, ‘धारा-144 आगामी 5 अप्रैल 2020 तक जिले में लागू रहेगी। अब नोएडा, ग्रेटर नोएडा, दादरी इत्यादी जगहों पर कोई भी सामाजिक, पारिवारिक, शैक्षणिक, सार्वजनिक, खेल, सांस्कृतिक, राजनीतिक, धार्मिक, प्रदर्शनी, रैली-जुलूस जैसे कार्यक्रम 5 अप्रैल 2020 तक आयोजित नहीं हो सकेंगे’। वहीं जिले में लागू इस धारा के पीछे का कारण ये बताया जा रहा है इससे लोग एक-दूसरे के संपर्क में कम आएंगे। यहां ये बता दें कि कोरोना एक महामारी है। जो एक से दूसरे व्यक्ति में फैलती है। ऐसे में यह प्रतिबंधात्मक कदम पुलिस ने उठाया जाना जरूरी माना है।

सामाजिक, राजनीतिक समारोह की अनुमति नहीं

बता दें, बुधवार को नोएडा में कोरोना वायरस का एक और मामला देखने को मिला है। हाल में इंडोनेशिया की यात्रा कर लौटे गौतम बुद्ध नगर का एक निवासी को जांच में इस वायरस से संक्रमित पाया गया है। बुधवार को जिले के स्वास्थ्य अधिकारियों ने ये जानकारी दी। मुख्य चिकित्सा अधिकारी अनुराग भार्गव ने कहा, ‘जिले में कोविड-19 के कुल पुष्टी मामले अब चार हो गए हैं’।

दुनिया भर में कोरोना का कहर WHO ने जारी किया लिस्ट

बुधवार को सामने आया कोरोना वायरस का एक और मामला

भार्गव ने एक बयान में कहा, ‘नोएडा के सेक्टर 41 में रहने वाले इस व्यक्ति का नमूना चार दिन पहले लिया गया था और जांच में उसे कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है। उसे इलाज के लिए ग्रेटर नोएडा के राजकीय चिकित्सा विज्ञान संस्थान (जीआईएमएस) में भर्ती कराया गया है।’ मुख्य चिकित्सा अधिकारी अनुराग भार्गव ने कहा, ‘संक्रमित व्यक्ति के घर और आसपास के क्षेत्रों को संक्रमण-मुक्त किया जा रहा है’।

नोएडा में कोरोना के अब तक चार मामले

अधिकारियों के मुताबिक, मंगलवार को दो व्यक्तियों में वायरस की पुष्टि पाई गई थी, जो हाल ही में फ्रांस से लौटे थे। उनमें से एक नोएडा के सेक्टर 78 का, जबकि दूसरा सेक्टर 100 का रहने वाला है। अधिकारियों ने ये भी बताया कि इससे पहले भी दिल्ली के एक निवासी को नोएडा में कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया था।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं