गुरुग्राम में सरकारी रेट पर होगी कोरोना की जांच, तीन प्राइवेट लैब तय

कोरोना की जांच के लिए गुरुग्राम में तीन प्राइवेट लैबों को निर्धारित किया गया है। सरकारी रेट पर होगा टेस्ट

गुरुग्राम में कोरोना की जांच के लिए हरियाणा सरकार ने तीन प्राइवेट लैबोरेट्री को संक्रमण के सैंपल टेस्ट करने के लिए अधिकृत किया है। ये तीनों लैब  सेक्टर-34 स्थित स्ट्रैंड लाइफ साइंसेज, सेक्टर-18 स्थित एसआरएल लिमिटेड और उद्योग विहार फेस-एक स्थित कोर डायग्नोस्टिक्स में निर्धारित किए गए हैं। सिविल सर्जन डॉक्टर जेएस पुनिया की बैठक सोमवार को इन तीनों लैब के साथ हो चुकी है। उन्हें सरकार की हिदायतों के बारे में बताया गया है। इसके साथ ही सिविल सर्जन को दिन में दो बार रिपोर्ट भेजने के लिए नोडल ऑफिसर भी बनाए गए हैं।

पंजाब में कर्फ्यू की अवधि 14 अप्रैल तक बढ़ाई गई, सभी परीक्षाएं भी स्थगित

हरियाणा सरकार द्वारा निर्धारित तीनों लैब संचालकों को हिदायत दी गई है कि वे सैंपलों के टेस्टों के लिए ICMR (आईसीएमआर) द्वारा निर्धारित रेट ही लेंगे। ये लैब सैंपल टेस्ट के लिए लोगों से 4500 की फीस ही लेंगी, इस फीस में 1500 रुपए स्क्रीनिंग टेस्ट और 3000 कंफर्मेटरी टेस्ट के चार्जेज भी शामिल होंगे।

कोरोना: नोएडा में पांचवें और गुरुग्राम में छठे मरीज की पुष्टि

प्राइवेट चिकित्सकों को कहा गया है कि वह कोरोना से संक्रमित का टेस्ट कराने के लिए प्राइवेट लैब में रेफर करेंगे और उसकी पूरी जानकारी स्वास्थ्य विभाग को देंगे। इसके साथ ही कोरोना से संक्रमित केसों की भी पूरी जानकारी स्वास्थ्य विभाग को सिविल सर्जन के माध्यम से दी जाएगी। बता दें कि बीते 5 दिनों से गुरुग्राम में एक भी कोरोना से जुड़ा मामला नहीं आया है, गुरुग्राम में 10 कोरोना के केस सामने आए थे जिनमें से 6 मरीज ठीक हो गए हैं।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं