इंदौर: कोरोना की जांच के लिए पहुंची टीम पर हमला करने वाले 4 लोगों पर रासुका की कार्रवाई

इंदौर के कलेक्टर मनीष सिंह के जारी आदेश के बाद टीम पर हमला करने वाले 4 लोगों पर रासुका की कार्रवाई की गई है।

एक अप्रैल को इंदौर के टाटपट्टी बाखल में कोरोना से पीड़ित लोगों की जांच के लिए पहुंची मेडिकल टीम पर हमला करने वाले चार आरोपियों पर रासुका के तहत कार्रवाई करते हुए उन्हें रीवा केंद्रीय जेल भेजा जा रहा है।

क्या था पूरा मामला

एएसपी (पश्चिम) राजेश व्यास के अनुसार, कोरोना से पीड़ित लोगों की जांच के लिए पहुंचे डॉक्टरों के दल पर बुधवार को दोपहर में भीड़ ने हमला कर दिया। डॉक्टरों के दल को दौड़ा-दौड़ा कर मारा गया वहीं, पथराव भी किया। जिसके बाद एक महिला डॉक्टर की शिकायत पर पुलिस ने अज्ञात हमलावरों के खिलाफ मामला दर्ज कर गिरफ्तारी की रूपरेखा बनाई और देर रात कई वीडियो फुटेज के आधार पर कुछ लोगों की पहचान भी की गई है।

अगर आपने किया लॉकडाउन का उल्लंघन तो…

किन लोगों पर हुई रासुका की कार्रवाई

इंदौर के कलेक्टर मनीष सिंह के जारी आदेश के बाद मोहम्मद गुलरेज पिता हाजी अब्दूल गनी, मोहम्मद मुस्तफा पिता हाजी मोहम्मद इस्माईल, सोयब उर्फ शोभी पिता मोहम्मद मुख्तयार और मज्जू उर्फ मजीद पिता अब्दुल गफूर के खिलाफ ये कार्रवाई की गई है। आपको बता दें, मेडिकल टीम पर हमला करने वाले 7 लोगों को गुरुवार सुबह पुलिस ने हिरासत में ले लिया था  जबकि छह देर रात पकड़े गए। हिरासत में लिए गए आरोपियों की उनके क्षेत्र में ही जमकर पिटाई भी की गई। वहीं अब पुलिस ने हमले में शामिल 15 अन्य को वीडियो फुटेज के आधार पर चिन्हित कर लिया है।  आरोपितों पर डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट तहत भी कार्रवाई की गई है।

कोरोना के खिलाफ जंग में साथ देंगे सेना के 8,500 मेडिकल स्टाफ

 क्या है रासुका

राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम-1980, देश की सुरक्षा के लिए सरकार को अधिक शक्ति देने से जुड़ा एक कानून है जो  केंद्र और राज्य सरकार को किसी भी संदिग्ध नागरिक को गिरफ्तारी की शक्ति देता है।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है