कोरोना वायरस जिंदा रह सकता है मनुष्य के शरीर में 39 दिनों तक

कोरोनावायरस डॉक्टरों और चिकित्सकों के लिए चुनौती बना हुआ है। अमेरिकी वैज्ञानिकों का कहना है की ये वायरस 10-15 दिनों तक ही जीवित रह सकता है।

नई दिल्ली: Coronavirus (कोरोना वायरस)को लेकर हर रोज नए खुलासे हो रहे हैं, जो पूरी दुनिया में कहर मचा रहे हैं। यह घातक वायरस न केवल अपना रूप बदल रहा है, बल्कि डॉक्टरों और चिकित्सकों के लिए भी एक चुनौती बन गया है।

कितने दिनों तक जिंदा रह सकता है कोरोना वायरस

  • अमेरिकी वैज्ञानिकों ने खुलासा किया है कि यह वायरस लगभग डेढ़ महीने तक जीवित रह सकता है
  • अब तक दुनिया भर के डॉक्टर यह मान रहे थे कि यह वायरस केवल 10-15 दिनों तक ही जीवित रह सकता है
  • Britain(ब्रिटेन) के सबसे प्रतिष्ठित medical journal (मेडिकल जर्नल)Lancet (‘लैंसेट’)में प्रकाशित इस शोध के अनुसार, Coronavirus (कोरोना वायरस)39 दिनों तक जीवित रह सकता है

खुशखबरी: US के सुपर कंप्यूटर ने खोजा कोरोना का इलाज

  • यूएसCenters for Disease Control and Prevention(सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन) (CSCP) ने दावा किया है कि कोरोना वायरस कुछ दिनों तक एक सामान्य व्यक्ति के शरीर में रहता है, लेकिन अगर यह घातक रूप ले लेता है, तो ये मरीज के शरीर में 39 दिनों तक रह सकता है

चीन में Coronavirus (कोरोना वायरस) से संक्रमित और मृत लोगों के रिकॉर्ड के आधार पर, इस रिपोर्ट में कहा गया है की कोरोना अगर एक घातक रूप लेता हैं तो कोई भी एंटीवायरल दवा इसे प्रभावित नहीं कर सकती है। वैज्ञानिकों का कहना है कि कोरोना वायरस किसी भी संक्रमित व्यक्ति के शरीर में कम से कम 8 दिनों तक रहता है। लेकिन उन लोगों में, जो इलाज के बाद ठीक हो गए हैं, औसतन यह वायरस लगभग 20 दिनों तक रहता है।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं