भगवान श्री कृष्ण से सीखें सक्सेsस के 10 मंत्र

भगवान श्री कृष्ण ने युवाओं को सफल बनाने के लिए कई बातें कहीं है। जिनका उल्लेख इस प्रकार है…

आज के युवाओं के लिए श्री कृष्ण द्वारा सिखाई गई  बातें उतनी ही जरूरी है जितनी अर्जुन के लिए रही।  ऐसे में आज हम आपको बताएंगे श्री कृष्ण की कुछ ऐसी खास बातें हैं, जिनका अनुसरण युवाओं को  सफल बना सकता है।

अष्टमी और नवमी तिथि पर, जाने इन वर्ष की कन्या के…

  1. श्री कृष्ण हमेशा से ही क्रांतिकारी विचारों के धनी रहे हैं। उनमें सबसे खास बात जो उनकी ओर ध्यान खींचती है वह है उन्होंने कभी किसी बंधी लकीर पर चलने की कोशिश नहीं की। जरूरत और हालातों के हिसाब से खुद की भूमिका बदली और अर्जुन के सारथी बनें। ऐसे ही युवाओं को भी समय के साथ खुद को परिवर्तित करना चाहिए।
  2. पांडवों के साथ हर कठिन घड़ी में साथ रहकर श्रीकृष्ण ने यह साबित किया कि दोस्त वही होते हैं जो अच्छे ही नहीं बुरे वक्त में भी साथ देते हैं। दोस्ती में शर्तों की कोई जगह नहीं होती। इसलिए आपको भी ऐसे दोस्त अपने पास रखनी चाहिए जो मुश्किल परिस्थितियों में आपका साथ दें।
  3. महाभारत के सबसे बड़े योद्धाओं में शामिल अर्जुन ने ना केवल अपने गुरु से सीख ली बल्कि अपने अनुभवों और गलतियों से भी सीखते रहें। यही सीख स्टूडेंट के लिए भी जरूरी है कि वह अपनी गलतियों और असफलताओं से सीख लें।
  4. जैसे भगवान कृष्ण की रणनीतियां पांडवों के पास नहीं होती तो शायद ही युद्ध में जीत पाते। इसीलिए हर इंसान को परीक्षा की तैयारी करने के लिए रणनीति बनानी चाहिए।
  5. Don’t worry, be happy. श्री कृष्ण ने इसे गीता में सिखाते हुए कहा है, ‘क्यों व्यर्थ चिंता करते हो? किससे व्यर्थ में डरते हो?’
  6. श्रीकृष्ण से जुडी हर कहानी मैं आपको यह देखने को मिलेगा कि इंसान को दूरदर्शी होना चाहिए। उसे हर स्थिति का आकलन करना चाहिए।
  7. कृष्ण यह सिखाते हैं कि मुसीबत के समय सफलता हासिल नहीं होने पर हिम्मत हारने नहीं चाहिए। इसके बजाय सबक लेकर आगे बढ़ना चाहिए। समस्याओं का सामना करना चाहिए। एक बार डर का सामना कर लिया तो फिर जीत आपकी ही होगी।
  8. भगवान श्री कृष्ण ने अनुशासन में जीने, बिन बात की चिंता ना करने और अब भविष्य की बजाए अपने वर्तमान पर ध्यान लगाने का मंत्र दिया है।
  9. जैसे भगवान श्री कृष्ण ने अपनी दोस्त सुदामा की गरीबी को देखकर उसके घर पहुंचने से पहले उसकी कुटिया की जगह महल बना दिया था। उसी तरह दोस्ती कृष्ण से सीखनी चाहिए। कभी रिश्तो में ओहदे को नहीं लाना चाहिए।
  10. सीधापन हमेशा काम नहीं आता, खासतौर पर उस वक्त जब आपके विरोधी आपसे ज्यादा ताकतवर हो। ऐसे में कूटनीतिक रास्ता बनाएं।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं