Chanakya Niti: ये 4 काम करने के बाद नहाना जरूर चाहिए।

चाणक्य ने कई ऐसी बातें बताई है जिनका अनुसरण कर लोग अपने जीवन मैं सफलता प्राप्त कर सकते हैं। वहीं उन्होंने चार ऐसी बातें बताई हैं जिसके बाद स्नान बेहद जरूरी है।

नीतियों के सम्राट के नाम से प्रसिद्ध आचार्य चाणक्य की नीतियां वास्तविक जीवन में काफी सहायक है। इन नीतियों का पालन कर व्यक्ति अपने काम सफलता पा सकता है। आचार्य चाणक्य ने अपनी नीति ग्रंथ यानी चाणक्य नीति में ऐसे चार कामों के बारे में बताया है जिसके बाद स्नान जरूर करना चाहिए। तो चलिए जानते हैं क्या है वो चार बातें….

तैलाभ्यङ्गे चिताधूमे मैथुने क्षौरकर्मणि।

तावद् भवति चाण्डालो यावत् स्नानं न चाचरेत्।

दाह संस्कार के बाद

शमशान में एक साथ या फिर कुछ घंटों के अंतराल पर दाह संस्कार किया जाता है। आचार्य चाणक्य की माने तो उनके मुताबिक शवयात्रा से वापस लौटने के तुरंत बाद नहाना चाहिए और नहाने के बाद ही घर के अंदर जाना चाहिए। चाणक्य का कहना हैं कि शमशान में कई तरह के कीटाणु होते हैं, जो आपको नुकसान पहुंचा सकते हैं। यही वजह है कि आपको दाह संस्कार के तुरंत बाद स्नान कर लेना चाहिए।

Chanakya Niti: प्यार और शादी के मामले में हमेशा सफल होते हैं ये 4…

मालिश के बाद

चाणक्य के अनुसार जब भी हम अपने शरीर की मालिश करते या फिर करवाते हैं तो उसके बाद नहाना जरूर चाहिए। मालिश के बाद स्नान शरीर की सारी गंदगी साफ हो जाती है। साथ ही चाणक्य कहते हैं कि कहीं भी बाहर जाने से पहले स्नान करना चाहिए।

प्रेम प्रसंग के बाद

चाणक्य के अनुसार, प्रेम प्रसंग के बाद महिला और पुरुष दोनों का स्नान करना जरूरी है। चाणक्य के अनुसार, प्रसंग के बाद शरीर अपवित्र हो जाता है पर पवित्रता भंग हो जाती है। इसलिए प्रसंग के बाद नहाना बेहद जरूरी है।

Chanakya Niti: अगर मान ली ये 5 बातें, भविष्य में नहीं होगी कभी पैसे…

बाल कटवाने के बाद

चाणक्य का कहना हैं कि बाल कटवाने के बाद तुरंत बाद स्नान करना चाहिए। चाणक्य की माने तो बाल कटवाने के बाद शरीर पर उसके छोटे-छोटे टुकड़े चिपक जाते हैं। इसलिए हमेशा नहाने के बाद स्नान कर लेना चाहिए।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं