‘कलियुग में वायरस से हम लड़ नहीं सकते’: SC

0
14

सुप्रीम कोर्ट के न्यायधीश अरुण मिश्रा ने कहा है कि आज के हम अत्याधुनिक हथियार तो हम बना सकते हैं लेकिन कोरोना वायरस से नहीं लड़ सकते।

सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस अरुण मिश्रा ने भारत में बढ़ते कोरोना के खतरे पर चिंता व्यक्त की है। बीते बुधवार को उच्चतम न्यायलय के न्यायधीश ने कहा कि कलियुग में वायरस से हम लड़ नहीं सकते। इस दौरान उन्होंने कहा कि आज हम अत्याधुनिक हथियार तो बना सकते हैं लेकिन कोरोना वायरस से नहीं लड़ सकते। दरअसल, सुप्रीम कोर्ट के न्यायधीश अरुण मिश्रा की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने भारत में फैलते कोरोना वायरस के सामने आए पॉजिटिव मामले और इस वायरस के कारण 3 लोगों की मौत पर चिंता जाहिर की और कहा कि हर 100 साल में इस तरह की महामारी फैलती है।

पुलिस वाले को गोमूत्र पिलाना बीजेपी नेता को पड़ा भारी, हुई जेल

न्यायमूर्ति मिश्रा ने कहा, ‘इंसान की हैसियत इन वायरस के सामने बौनी पड़ जाती है। आप हथियार तो बना सकते हैं लेकिन इस जानलेवा वायरस से नहीं लड़ सकते हैं।’ उन्होंने यह टिप्पणी अदालत में वकीलों की भीड़ को लेकर की। इस महामारी को लेकर नीति आयोग के सदस्य वी के पॉल ने सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार के़ विजय राघवन के साथ बैठक की, जहां कोविड-19 का टीका विकसित करने के तहत अनुसंधान एवं विकास (आरएंडडी) की जरूरतों पर चर्चा हुई।

नीति आयोग ने एक ट्वीट में कहा कि उसके सदस्य डॉ वीके पॉल ने सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार के साथ कोविड-19 का टीका विकसित करने के लिए आरएंडडी की आवश्यकताओं के मद्दनेजर बैठक की अध्यक्षता की। इसमें कहा गया कि बैठक में जैव प्रौद्योगिकी विभाग, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग और भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद समेत अन्य विभागों के प्रतिनिधि भी मौजूद रहे।

सांस लेने में परेशानी या खांसी ही नहीं, ये भी हो सकता है कोरोना वायरस का लक्षण

स्वास्थ्य मंत्रालय से मिली जानकारी के मुताबिक, गुरुवार तक भारत में कई नए मामले सामने आए हैं। भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 172 पहुंच गई है। बता दें कि चीन के वुहान में पिछले साल दिसंबर में फैले इस वायरस ने दुनियाभर के 155 देशों को चपेट में ले लिया है और करीब दो लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हैं, जबकि आठ हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं