UP: नई जनसंख्या नीति पर विचार कर रही योगी सरकार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी 2019 में स्वतंत्रता दिवस के भाषण के दौरान देश की बढ़ती जनसंख्या पर चिंता जाहिर की थी।

नई जनसंख्या नीति बनाने पर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार  विचार कर रही है,, जिसमें दो से ज्यादा बच्चे रखने पर लोग अब सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं उठा सकेंगे। एक निजी न्यूज चैनल से बात करते हुए यूपी के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जय प्रताप सिंह ने बताया कि राज्य की जनसंख्या 20 करोड़ के पार पहुंच गई है, जो चिंता का विषय है। टीवी चैनल से बात करते हुए उन्होंने कहा, “पिछले विधानसभा सत्र के दौरान कुछ विधायकों ने यह मुद्दा उठाया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी 2019 में स्वतंत्रता दिवस के भाषण के दौरान देश की बढ़ती जनसंख्या पर चिंता जाहिर की थी।” प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री ने आगे कहा कि परिवार नियोजन पर महिलाएं निर्णय करें,

योगी सरकार ने बदले इन चार रेलवे स्टेशनों के नाम, 163 साल पूराने इलाहाबाद…

तभी इस विषय पर शत प्रतिशत सफलता मिलेगी। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जय प्रताप सिंह ने हाल ही में एक कार्यक्रम के दौरान यह बात कही थी। उन्होंने कहा, परिवार कल्याण कार्यक्रम में परिवार नियोजन एक महत्वपूर्ण मुद्दा है वहीं इस मामले में जय प्रताप सिंह का बयान सामने आया है। उन्होंने कहा है कि प्रदेश की जनसंख्या अधिक होने की वजह से जन कल्याणकारी नीतियां बनाने में परेशानी आती है। इसके लिए प्रदेश सरकार नई जनसंख्या नीति बनाएगी। इस दिशा में हम सबको मिलकर कार्य करना होगा। उन्होंने कहा कि परिवार कल्याण कार्यक्रम में परिवार नियोजन एक महत्वपूर्ण मुद्दा है।

योगी सरकार का बड़ा बदलाव, इस नाम से जाना जाएगा Ayodhya Bus Stop

यूपी के स्वास्थ्य मंत्री के बयान पर कांग्रेस के तरफ से प्रतिक्रिया आई। यूपी कांग्रेस के प्रवक्ता अशोक सिंह ने कहा कि सरकार किसानों के जीवन के विकास और सुधार के बारे में बात नहीं कर रही है। बीजेपी नेता मुद्दों से जनता का ध्यान भटकाने के लिए इस तरह की बातें करते हैं। उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ सरकार को 3 साल पूरे होने वाले हैं, लेकिन कोई काम नहीं किया है।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं