शिवराज ने सिंधिया को बताया विभीषण, कहा- लंका जलाने के लिए ये जरूरी

0
69

मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने सीएम कमलनाथ पर तीखा वार किया है।

कांग्रेस के दिग्गजों में शामिल ज्योतिरादित्य सिंधिया के पार्टी में शामिल होने से भाजपा फूले नहीं समा रही। अपने पार्टी में विपक्षी पार्टी (कांग्रेस) के जाने-माने चेहरे के शामिल होने के बाद से पार्टी नेता कांग्रेस पर हमलावर हो गए हैं। इसी क्रम को आगे बढ़ाते हुए मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम और बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव शिवराज सिंह चौहान ने सीएम कमलनाथ पर हमला बोला है। शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ को रावण और कांग्रेस का हाथ छोड़ भाजपा में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया को विभीषण बताया है। इसके अलावा, उन्होंने कांग्रेस और कमलनाथ पर वार करते हुए शिवराज सिंह चौहान ने कहा, “कल तक तो ये कांग्रेस का हाथ छोड़ भाजपा में शामिल हुए सिंधिया को महाराज कहते थे और अब सिंधिया को माफिया कहते हैं। क्या एक दिन में सिंधिया जी महाराज से माफिया हो गए ?

सिंधिया के बाद अब आरजेडी ने कांग्रेस को दिया झटका

भाजपा का कमल थाम पहली बार भोपाल आए सिंधिया के स्वागत सत्कार करने के लिए आयोजित की गई सभा को संबोधित करते हुए चौहान ने कहा, “मेरे कमलनाथ, मैंने कहा था कि (हमारे) कार्यकर्ता के आए एक-एक आंसू का हिसाब लूंगा”। चौहान ने सीएम कमलनाथ पर प्रदेश की जनता और बीजेपी कार्यकर्ताओं पर जुल्म करने का आरोप लगाते हुए कहा, “इसका (मकान, होटल, रिजॉर्ट) तोड़ दो, इसको मिटा दो, तुम्हारे घर का राज है क्या? यदि तुम ठीक से राज करते तो हम सड़कों पर नहीं उतरते”। चौहान ने कहा, “लेकिन आज हम यह संकल्प करते हैं कि कमलनाथ जब तक तुम्हारे पाप, अत्याचार, अन्याय, भ्रष्टाचार और आतंक की लंका को जलाकर राख नहीं कर देते, हम चुप नहीं बैठेंगे। हम आराम से नहीं बैठेंगे”। वहीं सिंधिया की ओर संकेत करते हुए शिवराज ने आगे कहा, “लेकिन रावण की लंका अगर पूरी तरह जलानी है तो विभीषण की तो जरूरत होती है मेरे भाई”। जिसे सुनकर वहां मौजूद बीजेपी कार्यकर्ता हंसने लगे।

सिंधिया पर राहुल गांधी का वार, कहा- विचारधारा को पॉकेट में डाला

शिवराज सिंह चौहान यही नहीं रूके उन्होंने अपना भाषण जारी रखते हुए कहा, “और अब सिंधिया जी हमारे साथ हैं। मिलकर लड़ेंगे, इनको (कमलनाथ सरकार) धाराशाही करेंगे”। उन्होंने कहा, “देख लेंगे। एक एक बात का हिसाब लेंगे”। मध्यप्रदेश में साल 2018 में कमलनाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार आने की ओर इशारा करते हुए चौहान ने कहा, “15 साल बाद आए हैं तो बहुत अच्छी सरकार चलाएंगे, लेकिन पूरे प्रदेश को तबाह और बर्बाद कर दिया। विकास के सारे काम ठप कर दिए। केवल एक काम है कि बीजेपी के कार्यकर्ताओं को कुचल दो। आदिवासियों की जमीन छीनने का काम किया गया, हमारे कार्यकर्ताओं के होटल जला दिए, एफआईआर करो, रासुका लगा दो, होटल, रिजॉर्ट तोड़ दो, प्राथमिकी दर्ज करा दो, बंद करा दो, रासुका लगा दो”।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं