PM मोदी के प्रस्ताव पर सार्क देशों के वीडियो कॉन्फ्रेंस में शामिल होगा PAK

भारत में अब तक कोरोना वायरस से संक्रमित 83 केस सामने आ चुके हैं, जबकि पाकिस्तान में 20 केस सामने आए हैं।

कोरोना वायरस की गंभीरता पर पीएम मोदी द्वारा बुलाई गई सार्क देशों के वीडियो कॉन्फ्रेंस के प्रस्ताव को दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन (SAARC) के देशों ने इसे अच्छा कदम बताते हुए इसका समर्थन किया है। अब समर्थन करने वाले देशों में पाकिस्तान का भी नाम शामिल हो गया है। पाकिस्तान की विदेश मंत्रायल के प्रवक्ता आयशा सिद्दीकी की तरफ से कहा गया है कि दुनियाभर में तेजी से फैल रहे वैश्विक महामारी (कोरोना वायरस) से निपटने के लिए भारत के प्रधानमंत्री द्वारा दिए गए दक्षेस सदस्यों (SAARC) के वीडियो कॉन्फ्रेंस के प्रस्ताव में शामिल होगा। बता दें कि भारत में अब तक इस वायरस से संक्रमित 83 केस सामने आ चुके हैं, जबकि पाकिस्तान में 20 केस सामने आए हैं।

कोरोना का कहर, भारत में दूसरी मौत, दिल्ली के RML में महिला ने तोड़ा दम

दरअसल, बीते दिन पीएम मोदी ने अपने ट्वीट के जरिए आठ सदस्यों के क्षेत्रीय समूह से संपर्क करते हुए दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन (SAARC) के नेताओं की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक कराने का प्रस्ताव रखा, जिसमें उन्होंने कहा कि ये प्रस्ताव कोरोना वायरस से निपटने के लिए मजबूत रणनीति तैयार करने के लिए है। सार्क के सभी देशों ने इस प्रस्ताव का समर्थन किया। हालांकि, पाकिस्तान की तरफ से कोई रूख सामने नहीं आया था, लेकिन देर रात पाकिस्तान ने भी प्रस्ताव पर सराकारात्मक प्रतिक्रिया दी है और कहा है कि वह कॉन्फ्रेंस में हिस्सा लेने के लिए तैयार है। पाकिस्तान के  विदेश मंत्रायल की प्रवक्ता ने माना कि घातक कोरोना वायरस के कारण उत्पन्न खतरे को कम करने के लिए समन्वित प्रयासों की जरूरत है।

PM मोदी के प्रस्ताव पर सार्क देशों के वीडियो कॉन्फ्रेंस में शामिल होगा PAK

पाकिस्तान विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता आयशा सिद्दीकी ने शुक्रवार को एक ट्वीट में कहा, “हमने बता दिया है कि स्वास्थ्य पर पाकिस्तानी प्रधानमंत्री के विशेष सहायक जफर मिर्जा मुद्दे पर दक्षेस सदस्य देशों की वीडियो कॉन्फ्रेंस में हिस्सा लेने के लिए उपलब्ध रहेंगे।”  वायरस के खिलाफ पाकिस्तान के अभियान की अगुवाई मिर्जा कर रहे हैं गौरतलब है कि कोरोना वायरस की गंभीरता को देखते हुए पीएम मोदी ने दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन (SAARC) के नेताओं की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के प्रस्ताव को लेकर एक के बाद एक कई ट्वीट किए। उन्होंने ट्वीट किया, “हमारी धरती कोविड-19 नोवल कोरोना वायरस से जंग लड़ रही है। विभिन्न स्तरों पर, सरकारें और लोग इससे निपटने की भरसक कोशिश कर रहे हैं। दक्षिण एशिया जहां विश्व की बड़ी आबादी रहती है, अपने लोगों के स्वास्थ्य को सुरक्षित रखने में कोई कसर नहीं छोड़ेगा।”

कोरोना: PM की पहल के मुरीद हुए दुनियाभर के नेता

उन्होंने अन्य ट्वीट किया, “मैं प्रस्ताव देना चाहता हूं कि दक्षेस देशों का नेतृत्व कोरोना वायरस से लड़ने के लिए मजबूत रणनीति बनाए। हम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हमारे नागरिकों को स्वस्थ रखने के तरीकों पर चर्चा कर सकते हैं। एक साथ मिलकर हम दुनिया के लिए उदाहरण पेश कर सकते हैं और धरती को स्वस्थ बनाने में योगदान दे सकते हैं।” मोदी के सुझाव का दक्षेस के सभी सदस्य राष्ट्रों ने समर्थन किया है। समूह के सभी नेताओं ने प्रधानमंत्री के प्रस्ताव का स्वागत किया। प्रस्ताव को लेकर पाकिस्तान की प्रतिक्रिया देर रात आई।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं