मुख्यमंत्री की शपथ लेते ही एक्शन मोड में नजर आये शिवराज सिंह चौहान

राज्यपाल लाल जी टंडन ने राजभवन में शिवराज सिंह से हाथ मिलाकर उनका स्वागत किया। शपथ लेने के बाद शिवराज सिंह धन्यवाद कहने के लिए राज्यपाल के पास गए।

मध्यप्रदेश की राजनीति में एक बार फिर से शिवराज युग की शुरुआत हो चुकी है। शिवराज सिंह चौहान ने 32वें मुख्यमंत्री के रुप में शपथ ली। भोपाल स्थित राजभवन में शिवराज सिंह ने चौथी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। 6 मिनट तक चले इस शपथ ग्रहण समारोह में केवल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ही शपथ ली।

राज्यपाल ने किया शिवराज का स्वागत

राज्यपाल लाल जी टंडन ने राजभवन में शिवराज सिंह से हाथ मिलाकर उनका स्वागत किया। शपथ लेने के बाद शिवराज सिंह धन्यवाद कहने के लिए राज्यपाल के पास गए। राज्यपाल ने भी विनम्रता का परिचय देते हुए आगे बढ़कर शिवराज सिंह से हाथ मिलाए। शिवराज सिंह के मुख्यमंत्री बनने के कुछ ही समय बाद राज्यपाल लाल जी टंडन ने भी इस्तीफा दे।

एक्शन मोड में शिवराज सिंह

मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद ही शिवराज सिंह चौहान एक्शन मोड में नजर आये। शिवराज ने कमान संभालते ही सबसे पहले कोरोना वायरस से निपटने को लेकर बड़ा फैसला लिया। कोरोना वायरस के लगातार बढ़ रहे खतरे को देखते हुए मुख्यमंत्री चौहान ने केंद्र से आए उच्च अधिकारियों और अन्य संबंधित अधिकारियों के साथ वल्लभ भवन में आपातकालीन बैठक की। जिसमें उन्होंने अधिकारियों को कोरोना वायरस को लेकर उचित दिशा निर्देश दिए। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि आप सभी की शुभकामनाओं के लिए हृदय की गहराइयों से धन्यवाद। मेरी सबसे पहली प्राथमिकता कोविड-19 से मुकाबला है, बाकि सब बाद में।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं