कमलनाथ के इस्तीफे के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया का ट्वीट- सत्यमेव जयते

कमलनाथ ने भी इस्तीफा देने के बाद ट्वीट किया और कहा कि आज मध्यप्रदेश की उम्मीदों और विश्वास की हार हुई है।

मध्य प्रदेश की राजनीति ने एक नई करवट ले ली है। बीते गुरुवार को सुप्रीम कोर्टे ने अपने आदेश में कमलनाथ सरकार को मध्य प्रदेश विधानसभा में अपना बहुमत हासिल करने को कहा था, जिसके मद्देनजर विधानसभा स्पीकर एन पी प्रजापति ने शुक्रवार को दोपहर दो बजे सदन का विशेष सत्र बुलाया, लेकिन इससे पहले प्रदेश के सीएम ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपने इस्तीफे का एलान किया। उन्होंने अपना इस्तीफा प्रदेश के राज्यपाल लाल जी टंडन को सौंपा। इसी बीच कांग्रेस से बीजेपी में शामिल हुए दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कमलनाथ के इस्तीफे के बाद ट्वीट कर कहा कि आज सच्चाई की फिर से जीत हुई है, सत्यमंव जयते।

MP: कमलनाथ का इस्तीफा, कहा-बागियों को जनता माफ नहीं करेगी

कमलनाथ के इस्तीफे के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने ट्वीट में लिखा, “मध्य प्रदेश में आज जनता की जीत हुई है। मेरा सदैव ये मानना रहा है कि राजनीति जनसेवा का माध्यम होना चाहिए, लेकिन प्रदेश सरकार इस रास्ते से भटक गई थी. सच्चाई की फिर विजय हुई है। सत्यमेव जयते।” वहीं कमलनाथ ने भी इस्तीफा देने के बाद ट्वीट किया और कहा कि आज मध्यप्रदेश की उम्मीदों और विश्वास की हार हुई है। उन्होंने ट्वीट किया, “आज मध्यप्रदेश की उम्मीदों और विश्वास की हार हुई है, लोभी और प्रलोभी जीत गए हैं। मध्यप्रदेश के आत्मसम्मान को हराकर कोई नहीं जीत सकता। मैं पूरी इच्छाशक्ति से मध्यप्रदेश के विकास के लिए काम करता रहूँगा।”

MP में कमल या कमलनाथ? जानिए क्या कहता है अंकगणित

आपको बता दें कि प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस्तीफा देने के बाद कमलनाथ ने बीजेपी सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि बीजेपी के 15 साल और मेरे 15 महीने, बीजेपी मेरी सरकार को गिराने के लिए पिछले 15 महीनों से साजिश रच रही थी। उन्होंने कहा कि 15 महीनों में मेरा प्रयास रहा कि हम प्रदेश को नई दिशा दें, प्रदेश की तस्वीर बदलें। मेरा क्या कसूर था? इन 15 महीनों में मेरी क्या गलती थी। राज्य की जनता ने मुझे पांच साल के लिए समर्थन दिया था। बागियों को जनता कभी माफ नहीं करेगी।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं