आज रात 8 बजे कोरोना को लेकर राष्ट्र को संबोधित करेंगे...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस को लेकर एक नई पहल शुरू की है। जिससे दुनियाभर के नेता मुरीद हो गए हैं।

पूरी दुनिया में इस वक्त कोरोना वायरस अपना कहर बरसा रहा है। इस बीच भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बड़ी पहल शुरू की है। पीएम मोदी की इस पहल पर दक्षिण एशियाई देशों के नेता ना सिर्फ मुरीद हुए हैं बल्कि सहमति भी दी है। दरअसल, दक्षिण एशियाई देशों के संगठन दक्षेस (सार्क) में शामिल देशों से पीएम मोदी ने आह्वान किया है कि सभी आठ राष्ट्राध्यक्ष विडियो कॉन्फ्रेसिंग से जुड़कर इस घातक कोरोना वायरस के खिलाफ साझी लड़ाई पर चर्चा करें। शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर इस वायरस के खिलाफ एकजुट होकर लड़ाई लड़ने के लिए सभी सार्क देशों को को कहा है। जिसके बाद अब कई देशों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मुहिम का समर्थन किया है।

इस मुस्लिम नेता ने नरेंद्र मोदी को धमकी देते हुए कहा कि एनआरसी हम…

प्रधानमंत्री मोदी की अपील के बाद भूटान, श्रीलंका और मालदीव के राष्ट्रप्रमुखों की ओर से प्रतिक्रिया आई है। श्रीलंकाई राष्ट्रपति गोटबया राजपक्षे ने ट्वीट कर लिखा, “कोरोना वायरस के मसले पर श्रीलंका बात करने को तैयार है, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऐसे वक्त पर शानदार मुहिम की शुरुआत की है”। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मुहिम का भूटान के प्रधानमंत्री लोतेय शेरिंग ने भी समर्थन किया। उन्होंने अपने ट्विटर पर लिखा, “इसे ही नेतृत्व कहते हैं. क्षेत्र के सदस्य के तौर पर हमें साथ आना चाहिए, वरना इससे इकॉनोमी को नुकसान हो सकता है. मैं इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के लिए तैयार हूं”।

नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी ने जेएनयू हिंसा पर दिया बड़ा बयान, कहा नरेंद्र…

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का शुक्रिया करते हुए मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम सोलिह ने लिखा, “कोरोना वायरस को हराने के लिए सभी को एकसाथ आने की जरूरत है. हम क्षेत्रीय एकता दिखाने की मुहिम का समर्थन करते हैं”। नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ने पीएम मोदी के इस प्रस्ताव पर कहा, “हमारी सरकार इस मुहिम में साथ देने के लिए तैयार है”। गौरतलब है कि, दुनियाभर में कोरोना का खौफ इस कदर बढ़ गया है कि आम से लेकर बड़े-बड़े नेता भी अब हाथ मिलाने की जगह भारतीय संस्कृति का सहारा लेकर एक-दूसरे को नमस्ते कर रहे हैं।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं