चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग पर केस

कोरोना वायरस की साजिश रचने का आरोप लगाते हुए याचिकाकर्ता ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और भारत में चीन के राजदूत सुन वीदोंग के खिलाफ बिहार के मुजफ्फरपुर कोर्ट में शिकायतवाद (परिवादपत्र) दायर की है।

कोरोना वायरस को लेकर दुनियाभर के लोग दहशत में है। वहीं, चीन के वुहान से फैला कोरोना वायरस का मामला अब कोर्ट पहुंच गया है। बिहार के मुजफ्फरपुर की एक अदालत में भारत में कोरोना के फैलने को आधार बनाते हुए बीते दिन सोमवार को चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और भारत में चीन के राजदूत सुन वीदोंग के खिलाफ शिकायत दर्ज की गई है। कथित तौर पर इन दोनों पर देश में कोरोना वायरस फैलाने की साजिश रचने का आरोप लगाते हुए याचिकाकर्ता ने शिकायतवाद (परिवादपत्र) दायर किया है। इस दौरान वकील ओझा ने जानकारी दी कि कोर्ट ने दायर परिवादपत्र पर अगली सुनवाई के लिए 11 अप्रैल की तारीख मुकर्रर की है।

जानिए कैसे जमीनी स्तर से राजनीति के मुकाम तक पहुंचे शी जिनपिंग

बीते दिन सोमवार स्थानीय वकील सुधीर कुमार ओझा ने मुजफ्फरपुर के अपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी (पश्चिमी) की अदालत में एक शिकायतवाद दायर कर चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और और भारत में चीन के राजदूत सुन वेदोंग पर आरोप लगाया है कि इन दोनों ने ही दुनिया में कोरोनोवायरस फैलाने की साजिश रची थी। दायर शिकायतवाद में ये कहा गया है कि आरोपितों ने साजिश के तहत कोरोना वायरस का इजाद किया। इसका उद्देश्य इसे बायोलॉजिकल हथियार के रूप में प्रयोग कर विश्वशक्ति बनना था। इसका नाम ‘वुहान-400’ रखा था। साजिश के तहत कोरोना वायरस का प्रयोग किया गया है। जिसके कारण काफी लोगों की मौत हो गई। चीन के राष्ट्रपति और भारत में चीन के राजदूत पर शिकायतवाद परिवादपत्र में धारा 269, 270, 109, 120बी के तहत आरोप लगाया गया है।

शी जिनपिंग: पीएम मोदी के साथ दोस्तों की तरह खुलकर हुई बातचीत

आपको बता दें कि कोरोना का असर धीरे-धीरे दिखने लगा है। भारत में अबतक कोरोना के 125 पॉजिव मामले सामने आ चुके हैं। वहीं अब इस वायरस के कारण भारत में तीसरी मौत भी हो गई है। मंगलवार की सुबह मुंबई के कस्तूरबा अस्पताल में 64 वर्षीय कोरोना वायरस से पीड़ित ने दम तोड़ दिया। बता दें कि इससे पहले कर्नाटक के कलबुर्गी और दिल्ली में एक-एक मरीज की कोरोना के चलते मौत हो चुकी है। वहीं, दिल्ली से सटे नोएडा में भी दो नए मामले सामने आए हैं।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं