सीढ़ियां की सही दिशा चमकाएगी आपकी किस्मत मिलेगी सफलता

0
52

सही दिशा में बनी सीढ़ियों से निकलने वाली सकरात्मक ऊर्जा इतनी शक्तिशाली होती है कि वो उस घर के लिए उन्नति सफलता के रास्ते काफी हद तक खोल देते हैं।

घर के दरवाजे या मंदिर की सही दिशा का जितना महत्व है, उतना ही महत्व घर की सीढ़ियों का है। घर में सही दिशा में सीढ़ियों का होना भी बहुत जरूरी है। बता दें कि सही दिशा में घर की सीढ़ियों से घर की खुशियों का दरवाजा खुलता है। अगर दिशा सही नहीं हो तो ये घर की खुशियों को खत्म खराब भी कर सकती है। कोई भी नया घर या इमारत भवन बनाते समय वास्तुशास्त्र के नियमों का उचित ढंग से पालन करके सही वास्तुजोन में इनका निर्माण कराया जाए, तो उस घर में रहने वाले सदस्यों के लिए ये कामयाबी एवं सफलता की सीढ़ियां बन जाती हैं। बता दें कि सही दिशा में बनी सीढ़ियों से निकलने वाली सकरात्मक ऊर्जा इतनी शक्तिशाली होती है कि वो उस घर के लिए उन्नति सफलता के रास्ते काफी हद तक खोल देते हैं। और किस्मत चमका देती हैं।

आज के दिन जरूर करें ये उपाय, बदल जाएगी किस्मत

सीढ़ियों को वास्तु में काफी विशेष महत्व दिया गया है, भवन के दक्षिण-पश्चिम यानी कि नैऋत्य कोण में पृथ्वी तत्व की प्रधानता होती है, अतः यहां सीढ़ियां बनाने से इस दिशा का भार बढ़ जाता है, जो वास्तु की दृष्टि में बहुत शुभ माना जाता है। इसलिए इस दिशा में सीढ़ियों का निर्माण करना शुभ माना जाता है। साथ ही इस दिशा में बनी सीढ़ियों से धन-संपत्ति में वृद्धि एवं स्वास्थ्य अच्छा रहता है। दक्षिण दिशा में बनी सीढ़ियां यश का कारण बनती हैं। पश्चिम दिशा में सीढ़ीयां बनवाना अत्यंत हानिकारक सिद्ध हो सकता है। इसलिए भूलकर भी पश्चिम दिशा में सीढ़ियों का निर्माण न कराएं। इसके अलावा शुभ फल की प्राप्ति के लिए सीढ़ियों की संख्या 5, 7, 9, 11, 15, 17 आदि विषम होनी चाहिए।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं