YES बैंक ने खाताधारकों को कहा NO, जानिए क्यों!

0
287

हांलाकि वित्तमंत्री ने साफ कहा है कि किसी को डरने की जरुरत नहीं हैं और नहीं ही यस बैंक के कर्मचारियों को अपनी नौकरी को लेकर परेशान होने की आवश्यकता है।  

नई दिल्ली: अभी मुंबई का पीएमसी बैंक वाला मसला तो आपको याद होगा जिसको लेकर भारी संख्या में खाताधारक दिल्ली से लेकर मुंबई तक हंगामा काटे थे। अब पीएमसी के बाद यस बैंक से जुड़ा मामला सामने आया है। जिसमें बैंक प्रशासन ने कहा है कि अब आप यस बैंक से पचास हजार से ज्यादा नहीं निकाल सकते हैं।

इस विषय को लेकर केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सफाई दिया है कि हमारी सरकार ग्राहकों के हितों की रक्षा सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है। ऐसे में हमने इस मामले में आरबीआई से रिपोर्ट भी मांगी है।  पत्रकारों से बात करते हुए निर्मला सीतारमण ने कहा कि 2017 से निगरानी की जा रही थी और इससे जुड़ी तमाम गतिविधियों की हर दिन निगरानी की गई। बैंक में गलत परिसंपत्ति वर्गीकरण जैसी स्थिति को पाया गया है।

यस बैंक से जुड़े तमाम अपवादों को निपटाने के लिए सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के एक वित्तीय अधिकारी को नियुक्त किया गया है, जो इस बैंक से जुड़े तमाम मुद्दों को देखेगा। यस बैंक की इस समस्या के बाद अब हजारों खाताधारक परेशान हैं। उनको डर है कि कहीं उनका पैसा न डूब जाए। इसके अलावा अगर बैंक महज 50हजार ही निकालने का अनुमति दे रहा है तो उतने पैसों में लोग कैसे फीस भरेंगे, शादी करेंगे तमाम एसी बातों को लेकर यस बैंक के खाता धारक असहज हैं।

हांलाकि वित्तमंत्री ने साफ कहा है कि किसी को डरने की जरुरत नहीं हैं और नहीं ही यस बैंक के कर्मचारियों को अपनी नौकरी को लेकर परेशान होने की आवश्यकता है।