पश्चिम रेलवे कोरोना वायरस से जंग में देगी साथ, 410 ट्रेनों में आइसोलेशन वार्ड

0
20

भारतीय रेलवे कोरोना वायरस से जंग में लोगों की मदद करने के लिए सामने आई है।

भारत में Coronavirus (कोरोना वायरस) के बढ़ते कहर को देखते हुए हर राज्य अलग-अलग तरीके अपना रहा है। वहीं अब Indian Railway (भारतीय रेलवे) भी लोगों की मदद करने के लिए सामने आई है। रेल मंत्री Piyush Goyal (पीयूष गोयल) के निर्देशों के बाद, पश्चिम रेलवे 410 ट्रेनों के डिब्बों को Isolation (आइसोलेशन) और Quarantine Ward (क्वारंटीन वार्ड) में बदलने जा रही है।

कोरोना के खिलाफ जंग: जबलपुर पुलिस लोगों को दे रही अनोखा संदेश 

यह कदम उठाते हुए, Western Railway (पश्चिम रेलवे) ने कहा कि वह Mumbai (मुंबई) मंडल सहित अपने सभी छह डिवीजनों में Coronavirus (कोरोनावायरस) के संदिग्ध रोगियों के लिए लगभग 410 ट्रेन डिब्बों को Isolation Ward (आइसोलेशन वार्ड) में परिवर्तित कर देगा। रेलवे के अधिकारियों ने कहा कि पश्चिम रेलवे की भावनगर कार्यशाला में कोरोना वायरस के संदेह वाले मरीजों के लिए एक कोच को आइसोलेशन वार्ड में बदल दिया गया है। Western Railway (पश्चिम रेलवे) जल्द ही मुंबई डिवीजन सहित अपने सभी 6 डिवीजनों में 410 कोचों को परिवर्तित करेगा।

कोरोना से संबंधित सटीक जानकारियों के लिए वेबसाइट लॉन्च

कोरोना के खिलाफ देशव्यापी युद्ध में रेलवे बड़े पैमाने पर योगदान दे रहा है। चीन से सीखते हुए, उन्होंने अपनी तैयारियों को सुपर गति देने का फैसला किया है। जिस तरह से चीन ने दस दिनों में एक विशाल अस्पताल का निर्माण किया। इसी तरह, अगले कुछ दिनों में रेलवे अपने कोचों को Isolation Ward (आइसोलेशन वार्ड) में बदल देगा। वहीं कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए, भारतीय रेलवे केंद्र सरकार की स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत करने के लिए सभी प्रयास कर रहा है। कोचों को अलग-थलग करने के अलावा, रेलवे कोरोना पीड़ितों के इलाज के लिए अपने अस्पतालों में 6500 बेड भी उपलब्ध कराएगा और उन्हें स्वास्थ्य विभाग को उपलब्ध कराएगा। इसके अलावा, अतिरिक्त डॉक्टरों और पैरामेडिक्स की भी भर्ती की गई है।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं