सड़क पर घूम रहे कनपुरियों पर चली लाठियां

0
18

महानगर में लॉकडाउन का उल्लंघन पड़ेगा भारी

कोरोना महामारी के चलते लॉकडाउन के कारण भारत के सभी राज्यों में सन्नाटा पसरा है। उत्तर प्रदेश के कानपुर की अगर बात की जाए तो यहां लोगों से लॉकडाउन का पालन करवाना पुलिस के लिए बड़ी चुनौती बन गया। लोग पुलिस की बात मानने को तैयार नहीं और चोरी-छिपे घरों से बाहर निकलकर लॉकडाउन का उल्लंघन करते मिल ही जाते हैं। ऐसे में पुलिस भी अब सख्त हो गई है और सड़क पर घूम रहे लोगों पर लाठियां बरसाकर उन्हें गर पहुंचा रही है।

कोरोना पर अफवाहों को रोकने के लिए दिल्ली पुलिस ने बनाया वेरिफिकेशन मॉड्यूल

कोरोना के मद्देनजर कानपुर में प्रशासन सख्त

कानपुर में कोरोना के पॉजिटिव मामलों की बढ़ती संख्या के मद्देनज़र प्रशासन सख्त हो गया है और अब मनमानी करने वालों को पुलिस लाठियों से समझा रही है। कानपुर शहर और घाटमपुर तहसील क्षेत्र को पूरी तरह से लॉकडाउन किया गया है। लेकिन कुछ लोगों को अभी भी कोरोना महामारी की गंभीरता समझ नहीं आ रही है। अपनी जान के साथ-साथ ये लोग दूसरों की जान के भी दुश्मन बनते नजर आ रहे हैं। इन्हीं हालातों के मद्देनजर प्रशासन ने सख्त फैसला लेते हुए सुबह 4 से 11 बजे तक मिलने वाली छूट को भी खत्म कर दिया है। अब रोजमर्रा के सामान सब्जी, फल, दूध के लिए भी लोगों को घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं दी गई है।

डीएम डॉ. ब्रह्मदेव राम तिवारी ने दिया सख्त आदेश

कानपुर में हालात नियंत्रण से बाहर देखते हुए और लोगों की मनमानी के मद्देनज़र डीएम डॉ. ब्रह्मदेव राम तिवारी ने आज से पूरी तरह लॉकडाउन का आदेश दे दिया है। अब रोजमर्रा के कार्यों के लिए भी लोग अपने घरों से बाहन नहीं निकल पाएंगे। लेकिन ऐसा नहीं है कि आपके पास जरूरत का सामान खरीदने का कोई विकल्प नहीं है। आपको घर बैठे होम डिलीवरी के माध्यम से सब्जी, फल, दूध और ब्रेड डोर-टू-डोर मिलेगा। सड़क पर सिर्फ पास लेकर जाने वालों को ही अनुमति होगी। बिना पास के सड़क पर घूमने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। हालांकि इस सख्ती से आपको तकलीफ जरूर होगी लेकिन ये सख्ती आपकी सुरक्षा के लिए ही है। प्रशासन ने कानपुर में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सख्ती की है।

बिना पास के दूध और सब्जियां बेच सकेंगे

लॉकडाउन के दौरान दूध और सब्जी लोगों के घर-घर बेचने जा रहे लोगों को पास की आवश्यकता नहीं होगी। हालांककि गली-मोहल्लों में भी सब्जी, दूध आदि लेने के लिए भीड़ नहीं लगा सकते हैं। सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखना है और मास्क लगाकर ही घर से बाहर निकलना है। मीडिया कवरेज और न्यूज पेपर के वितरण को भी पाबंद नहीं किया गया है।

भोपाल: भीड़ हटाने गए पुलिसकर्मियों पर जानलेवा हमला

कानपुर के रेड जोन क्षेत्र में जाने से बचें

कानपुर के जिन क्षेत्रों में कोरोना संक्रमित लोगों के संपर्क के मामले सामने आए, उन क्षेत्रों को रेड जोन घोषित किया गया है। इन क्षेत्रों में अनवरगंज, बेकनगंज, चमनगंज, बाबूपुरवा, कर्नलगंज, और घाटमपुर को रेड जोन घोषित किया गया है। दरअसल मुस्लिम बाहुल्य इन क्षेत्रों की मस्जिदों में कोरोना से संक्रमित जमाती गए थे और यहां के कई लोगों से उनका संपर्क भी हुआ। मामले का खुलासा होते ही प्रशासन ने इन क्षेत्रों को सील करते हुए ड्रोन से निगरानी शुरू कर दी है।

घर से बाहर निकले तो लगेगा 5 लाख जुर्माना

एसपी पूर्वी राजकुमारर अग्रवाल, एसपी पश्चिम डॉ. अनिल कुमार और एसपी साउथ अपर्णा गुप्ता ने क्षेत्रों में जाकर स्थिति का जायज़ा लिया। डीआईजी के मुताबिक अलर्ट घोषित कर दिया है। अगर कोई भी व्यक्ति उल्लंघन करते पपाया गया तो 5-5 लाख रुपए के मुचलके पर पाबंद किया जाएगा।

मुर्गा बनाने के बाद भी नहीं सुधरे तो लाठियों से होगी धुनाई

लॉकडाउन का पालन कराने के लिए अभी तक पुलिस लोगों को समझाने का प्रयास करती रही और लगातार उल्लंघन के बाद सड़कों पर फिजूल घूम रहे लोगों को पुलिस ने मुर्गा बनाना शुरू कर दिया लेकिन कोरोना के मामले बढ़ने के बाद प्रशासन ने सख्त आदेश दे दिए हैं। अब महानगर में पूरी तरह से लॉकडाउन का ऐलान कर दिया गया है। जो भी व्यक्ति घर से बाहर घूमता दिखा तो अब पुलिस लाठियों से लोगों को समझाएगी।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है