पाकिस्तान सरकार बना रही है 80 एकड़ जमीन पर नया कब्रिस्तान, जाने क्यों...

सिंध सरकार ने कोरोना वायरस के मृतकों को दफनाने के लिए ये नए कब्रिस्तान बनाने का फैसला लिया है।

कोरोना वायरस का कहर दुनिया में चारों तरफ फैला हुआ हैं। तो वहीं इससे भारत का पड़ोसी देश पाकिस्तान भी अछूता नहीं रहा हैं। बता दें कि पाकिस्तान में कोरोना वायरस के 2458 मामले सामने आ चुके हैं और इनमे से 35 लोगों की मौत हो चुकी है। पाकिस्तान में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले पंजाब और सिंध प्रांत में पाए गए हैं। पाकिस्तान के पंजाब में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या 928 और सिंध प्रांत में संक्रमित लोगों की संख्या 783 हैं। पाकिस्तान में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखकर पाकिस्तान के कई प्रांतों ने नए कब्रिस्तान बनाने का काम भी शुरू हो गया हैं। बता दें कि ये कब्रिस्तान पाकिस्तान ने 80 एकड़ जमीन पर बनाया जा रहा हैं।

तो वहीं इस बात को लेकर पाकिस्तानी न्यूज चैनल एआरवाई के मुताबिक, सिंध सरकार ने कोरोना वायरस के मृतकों को दफनाने के लिए ये नए कब्रिस्तान बनाने का फैसला लिया है। ये कब्रिस्तान पाकिस्तान के कराची में 80 एकड़ की जमीन पर बनाया जा रहा है। साथ ही यहां कोरोना से मौत के एक शव को दफना भी दिया गया है।

मुंबई के धारावी में कोरोना की चपेट में आया डॉक्टर, देश…

आपको बता दें कि इस कब्रिस्तान का प्रयोग केवल कोरोना से मरने वाले लोगों की लाशें दफनाने के लिए ही किया जाएगा। सरकार कोरोना से मरने वाले लोगों के लिए अलग कब्रिस्तान बनाने का फैसला इसलिए लिए है ताकि संक्रमण फैलने का खतरा ना बढ़े। इस बात को लेकर कराची के मेयर वसीम अख्तर ने मीडिया से बातचीत में बताया कि कोरोना वायरस पीड़ितों के अंतिम संस्कार के लिए अलग से पांच कब्रिस्तानों की व्यवस्था की गई है। साथ ही मेयर ने बताया कि कोरोना वायरस पीड़ितों को मोहम्मद शाह, सुर्जनी, मोवच गोथ, कोरंगी, गुलशन-ए-जिया कब्रिस्तान में दफनाया जा सकता है।

इसके अलावा पाकिस्तान में कोरोना पीड़ितों के अंतिम संस्कार के लिए दिशा-निर्देश भी जारी कर दिए गए हैं। इन दिशा-निर्देश के मुताबिक, कोरोना पीड़ित के रिश्तेदारों को शव से दूरी बनाए रखनी चाहिए और उसके संपर्क में आने से बचना चाहिए। शव के पास कब्रिस्तान में शव के केवल करीबी रिश्तेदार ही अंतिम संस्कार में शामिल हो सकते हैं।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है