अब यूपी में पुलिस से पंगा पड़ेगा भारी

0
73

लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले सावधान !

कोरोना के संक्रमण को बढ़ने से रोकने के लिए भारत में लॉकडाउन का पालन करने का आदेश दिया गया। लेकिन बावजूद इसके लोग लॉकडाउन का उल्लंघन करते पाए जा रहे हैं। इतना ही नहीं लोग पुलिस पर हमला करने से भी पीछे नहीं हटते। जो पुलिसकर्मी आपको घर में सुरक्षित रहने के आग्रह कर रही है और खुद हर खतरे का सामना करते हुए आपकी सुरक्षा में 24 घंटे मुस्तैद है उसी पुलिस पर हमले की तमाम खबरें सामने आती हैं।

पुलिस पर हमला करने वालों को नहीं छोड़ेंगे सीएम योगी

उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के लगातार बढ़ते मामले चिंता का विषय बन गए हैं और उस पर जब लॉकडाउन का उल्लंघन किया जाता है तो वो खुद अपने पैरों पर कुल्हाड़ी मारने के समान है लेकिन इस बात को कुछ असमाजिक तत्व नहीं समझते वो लॉकडाउन का उल्लंघन कर न सिर्फ अपने लिए खतरा पैदा करते हैं बल्कि ये लोग पूरे देश के लिए लिए मुसीबत खड़ी कर देते हैं। जब पुलिस इन्हें समझाने का प्रयास करती है या लगातार उल्लंघन पर पुलिस कार्रवाई करती है तो ये अराजक तत्व पुलिस पर हमला करने से भी पीछे नहीं हटते। ऐसे में उत्तर प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने पुलिस के बचाव में इन अराजक तत्वों पर कड़ी कार्रवाई का आदेश दे दिया है।

लॉकडाउन के बीच अलीगढ़-मुजफ्फरनगर में पुलिस पर हमला, पथराव से 3 पुलिसकर्मी घायल

सीएम योगी आदित्यनाथ ने दिया सख्त आदेश

पुलिस पर हमलों की खबर को गंभीरता से लेते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में कहीं भी पुलिसकर्मियों पर हमला करने वालों के खिलाफ NSA यानि राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम के तहत सख्त कार्रवाई करने का आदेश दिया है।

क्या है NSA (National Security Act)?

सीएम योगी के सख्त आदेश के साथ ही आपको बताते चलें कि आखिर क्या है NSA. राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम-1980, कुछ विशेष परिस्थितियों में देश की सुरक्षा के उद्देश्य से सरकार को अधिक शक्ति देने का कानून है। ये कानून केंद्र और राज्य सरकार को देश अथवा राज्य की सुरक्षा को सर्वोपरि मानते हुए सुरक्षा से संबंधित प्रबंध का विरोध करने या व्यवस्थाओं में खलल डालने के आरोप में किसी भी संदिग्ध नागरिक को हिरासत में लेने की शक्ति देता है। इस कानून के तहत हिरासत में लिए गए व्यक्ति को 1 साल तक जेल में रखा जा सकता है।

देश में ना होता लॉकडाउन तो कुछ ऐसी होती, स्थिति

यूपी के इन मामलों का संज्ञान लेते हुए सीएम ने दिया आदेश

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ के इस सख्त आदेश की वजह भी जान लीजिए। दरअसल मुजफ्फरनगर में जब पुलिस लॉकडाउन का पालन करने का आदेश दे रही थी उस दौरान कुछ लोगों ने पुलिस पर हमला कर दिया। शर्मनाक बात है कि हमलावरों में महिलाएं भी शामिल थीं। इस हमले में एक सब इंस्पेक्टर और एक कॉन्स्टेबल घायल हुए थे। तो वहीं, सहारनपुर के जमालपुर गांव में मस्जिद के बाहर लगी भीड़ को हटाने और 6 लोगों को हिरासत में लेने पर कुछ लोगों ने पुलिस पर हमला कर दिया था। भीड़ ने लाठी-डंडों से पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया और हिरासत में लिए गए लोगों को पुलिस के चंगुल से छुड़ा लिया। इस हमले में दो सिपाहियों को चोट आई।

पुलिस पर हमला करना पड़ेगा भारी

मुजफ्फरनगर और सहारनपुर से पुलिस पर हमले के जो मामले सामने आए उनका संज्ञान लेते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने सख्त आदेश दे दिए हैं। इस तरह के मामले और न बढ़ें इसके लिए सख्त कार्रवाई की आवश्यकता भी है। लॉकडाउन के दौरान पुलिस कड़ी निगरानी कर रही है और लोगों से लॉकडाउन का पालन करने की अपील कर रही है लेकिन पुलिस पर हुए हमले के मामलों ने पुलिस की सुरक्षा का भी ध्यान दिला दिया है और ऐसे में सीएम योगी ने सख्त आदेश जारी कर दिए हैं। अब पुलिस पर हमला करने वाले जेल की हवा खाने के लिए भी तैयार रहें।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं