ऐसे जानें कोरोना वायरस के लक्षण, समय के साथ आते हैं ये बदलाव

शरीर में इस तरह धीरे-धीरे उभरते हैं कोरोना वायरस के लक्षण

कोरोना वायरस का बढ़ते असर के साथ ही लोग इससे बचने के लिए कई तरह के उपाय अपना रहे हैं। सरकार की तरफ से भी कई तरह की एडवाइजरी दी गई है, जिससे की लोग खुद को इस वायरस से बचा सके। लेकिन खुद को इस वायरस से सुरक्षित रखने के लिए इसके बचाव के तरीकों के साथ ही आपका ये भी जानना जरूरी है कि इस वायरस के लक्षण क्या है जो समय के साथ उभरते दिखाई देते हैं। इस बीमारी को दो मुख्य चरणों में बांटा जा सकता है- पहला चरण, जो आम तौर पर सात दिनों तक रहता है वहीं दूसरा चरण, जो और दो सप्ताह तक रहता है। इसमें राहत की बात ये है कि 85 फीसदी मरीज कोरोना वायरस के केवल पहले चरण का अनुभव करते हैं। जबकि सात में से एक मरीज पूरे तीन हफ्ते के लक्षणों से गुजरता है।

कोरोना को तोड़ने में भारत ने हासिल की सफलता

पहले दिन नजर आते हैं ये लक्षण- इस वायरस से पीड़ित ज्यादातर मरीजों में पहले बुखार के लक्षण दिखाई देते हैं। इसके साथ ही थकान, मांसपेशियों में दर्द और सूखी खांसी भी इस वायरस के लक्षण हैं। कुछ लोगों को एक या दो दिनों के लिए उल्टी या डायरिया भी महसूस हो सकता है।

दूसरे दिन में दिखेंगे ये बदलाव- वायरस से पीड़ित होने के दूसरे दिन आपको बहुत थकान का अनुभव होगा और आप कुछ भी करने में थकान का अनुभव करेंगे।

सातवे दिन के खत्म होने पर रहेंगा ये प्रभाव- पहला चरण खत्म होने यानी सातवें दिन तक 85 फीसदी मरीजों में ये लक्षण कम होने लगते हैं। अगर आप अकेले रहते हैं और आप बुखार से स्वस्थ होकर खुद को बेहतर महसूस कर रहे हैं तो आप अपने काम पर वापस लौट सकते हैं।

दुनिया भर में कोरोना का कहर WHO ने जारी किया लिस्ट

इसी चरण में अगर आप दूसरों के साथ रहते हैं तो आपको और सात दिनों के लिए आइसोलेशन में रहना चाहिए ताकि दूसरों तक आपका ये संक्रमण न पहुंचे। हालांकि अगर आपको सातवें दिन तक सांस लेने में परेशानी होने लगती है तो आप उन संक्रमित लोगों में से हैं जो इस बीमारी के दूसरे चरण में प्रवेश कर चुके हैं। इस चरण पर कुछ मरीजों को अस्पताल में एडमिट होने की जरूरत महसूस हो सकती है।

सत्रहवां दिन है अहम- आमतौर पर 17वें दिन के आसपास इस वायरस से पीड़ित मरीज दम तोड़ चुका होता है, हालांकि ये बात ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि इस चरण पर आकर मरने वालों का आंकड़ा अभी एक से दो फीसदी ही है।

इक्कीसवां दिन में नियंत्रण में आ सकते हैं आप- 21वें दिन तक गंभीर कोरोना वायरस के मामले भी नियंत्रण में आ सकते हैं और आप अपने काम पर वापस लौट सकते हैं।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं