बैंक कैशियर की जागरूकता के कायल हुए आईपीएस

चिमटे से लेन-देन की रसीद को पकड़ने का बैंककर्मी का वीडियो वायरल।

कोरोना वायरस को लेकर सरकार और विश्व स्वास्थ्य संगठनन लगातार लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ-साथ मास्क और सैनिटाइजर के इस्तेमाल की सलाह दे रहे हैं। तो वहीं कुछ ऐसे भी लोग हैं जो कोरोना वायरस से बचाव के लिए जारी लॉकडाउन का उल्लंघन कर रहे हैं। कोरोना वायरस एक ऐसा संक्रमण है जो एक व्यक्ति से न जाने कितने व्यक्तियों तक आसानी से पंहुच सकता है। ऐसे में आप खुद की सुरक्षा करके लोगों को भी सुरक्षित रख सकते हैं।

बैंक कैशियर से सीखें ड्यूटी पर सुरक्षा का ध्यान रखना

लॉकडाउन के समयहर नौकरीपेशा व्यक्ति घर में खुद को सुरक्षित रख सकता है लेकिन पुलिस, डॉक्टर, मीडियाकर्मी, बैंककर्मी आपकी सेवा में हाजिर हैं। ऐसे में आपकी सुरक्षा ही समाज की सुरक्षा है। इसी समाजसेवा का उदाहरण पेश किया गुजरात के एक बैंककर्मी ने जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर न सिर्फ वायरल हो रहा है बल्कि आईपीएस अफसर ने भी बैंककर्मी के वीडियो को शेयर कर उसकी सराहना की है। वायरल वीडियो में किसी आवेदक की जमा/निकासी रसीद को जब बैंक का सेवादार बैंककर्मी की तरफ बढ़ाता है तो बैंककर्मी के प्रोटेक्शन इक्विपेमंट के इस्तेमाल को देखकर लोग इस बैंककर्मी की सराहना किए बिना नहीं रह पाते। दरअसल मास्क पहने बैंककर्मी ने उस रसीद को सबसे पहले ग्लव्स पहने हाथों से चिमटे की मदद से उठाया फिर बैंककर्मी की टेबल पर ही रखे आयरन से वो उस पर्ची को हाई हीट में आयरन करके ही आगे का कार्य करते हैं।

बैंकों के विलय के बाद ग्राहकों के मन हैं शंका तो यहां जानिए हर…

आईपीएस अफसर ने बैंककर्मी के वीडियो को शेयर किया

हालांकि लोगों के बीच ये वीडियों काफी इंटरेस्टिंग रहा लेकिन हरियाणा कैडर के आईपीएस पंकज नैन ने ट्विटर पर ये वीडियो शेयर कर लिखा है ‘इस बैंक कैशियर को सलाम। सभी वायरस को मार रहे हैं।’इस वीडियो के माध्यम से बैंककर्मी ने लोगों को भी जागरूक किया है कि आखिर किस तरह आप वायरस से खुद की रक्षा कर सकते हैं। ये सुरक्षा के उपाय न सिर्फ व्यक्तिगत हैं बल्कि जनसमूह की सुरक्षा है।

बैंककर्मी द्वारा पर्ची को आयरन करने के पीछे लॉजिक

ऐसा माना जा रहा है कि कोरोना वायरस अधिक तामपान में जीवित नहीं रह पाता इसी लॉजिक को आधार बनाकर बैंककर्मी ने लोगों द्वारा मिल रही रसीद को वायरस मुक्त करने का तरीका निकाला। बैंक में लोग सोशल डिस्टेंसिंग का भी ध्यान नहीं रखते हैं ऐसे में कौन कहां से आ रहा है, उसकी क्या मेडिकल रिपोर्ट है ये कोई नहीं जानता और बैंक कर्मियों को अपनी सेवा भी देनी है तो ऐसे में किस तरह कोरोना से सुरक्षित रहा जा सकता है इसी का संदेश देते गुजरात के बैंककर्मी का वीडियो लोगों के बीच चर्चा का पात्र बन गया है। वहीं आईपीएम पंकज नैन ने भी इ वीडियो को शेयर कर बैंक कर्मी की सराहना कर उन्हें सैल्यूट किया है।

कोरोना से जंग के लिए आगे आया वर्ल्ड बैंक, एक अरब डॉलर की आपातकालीन…

हमारी सुरक्षा, जग सुरक्षा

कोरोना वायरस का संक्रमण का एक चेन की तरह होता है यानि कि व्यक्ति से व्यक्ति में बहुत तेजी से संक्रमित होता है। इसीलिए मास्क, सैनिटाइजर, सोशल डिस्टेंसिंग का इस्तेमाल न सिर्फ हमारे लिए बल्कि समूचे विश्व के लिए है। जब हम सुरक्षित होंगे तभी हमारे संपर्क में आने वाले अन्य व्यक्ति भी सुरक्षित रह पाएंगे। समाजसेवा के भाव से हमें हमारी सुरक्षा करने का दृढ़ संकल्प लेना चाहिए जिससे कोरोना महामारी का अंत किया जा सके।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है