499 साल बाद होलिका दहन पर बन रहा है, शुभ योग

अगर आपको भी विवाह और वैवाहिक समस्याएं, धन की समस्या या कोई और समस्या है। तो इस साल करें इसकका उपाय

9 मार्च को होलिका दहन किया जाना है। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार इस साल का योग पूरे 499 साल बाद आ रहा है। बता दें कि इस साल होलिका दहन के मौके पर बहुत ही शुभ योग बन रहा है। गुरु और शनि एक साथ ऐसी शुभ स्थिति का निर्माण कर रहे हैं। जिस कारण जो व्यक्ति सच्ची श्रद्धा से होलिका दहन की पूजा-आराधना करेगा उस व्यक्ति की सारी मनोकामनाएं पूरी होगी।

HOLI 2020- होली के रंगों से क्या है? ज्योतष शास्त्र से कनेक्शन…

तो आइए आपको बताते है, होलिका दहन शुभ मुहूर्त :

  1. 9 मार्च सोमवार के दिन होलिका दहन किया जाएगा
  2. शाम 06:22 से शुरू होकर 8:49 तक रहेगा।
  3. भद्रा पुंछा – सुबह 09:50 से 10:51 तक
  4. भद्रा मुखा : सुबह 10:51 से 12 :32 तक

इसके पूजा विधि-विधान के बारें में बात करें तो :

  • होलिका दहन शुरू हो जाने पर वहां अग्नि को प्रणाम करें और भूमि पर जल डालें।
  • इसके बाद होलिका दहन की अग्नि में गेंहू की बालियां, गोबर के उपले के साथ काले तिल के दाने डालें।
  • इसके बाद अग्नि के चारों तरफ कम से कम तीन बार परिक्रमा करें।
  • परिक्रमा के बाद अग्नि को प्रणाम करें और अपनी मनोकामना मांगे।
  • इसके बाद होलिका की अग्नि की राख लेकर उससे अपने माथे और घर के लोगों के माथे पर तिलक लगाएं।

Holi 2020: कल से शुरू हो रहा है होलाष्टक, जानें इसका शुभ मुहूर्त

 मनोकामना पूरी करने के लिए क्या करे :

  • अगर आप आप अच्छा स्वास्थय चाहते है तो अग्नि में काले तिल के दाने अर्पित करें।
  • बीमारी से मुक्ति पाने के लिए अग्नि में हरी इलाइची और कपूर अर्पित करें।
  • धन का लाभ पाने के लिए अग्नि में चन्दन की लकड़ी अर्पित करें।
  • कामकाज रोजगार के लिए अग्नि में लिए पीली सरसों के दाने अर्पित करें।
  • विवाह और वैवाहिक समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए अग्नि में हवन सामग्री अर्पित करें।
  • नकारात्मक ऊर्जा से बचने के लिए काली सरसों के दाने अर्पित करें।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं