कोरोना वायरस के आगे फिकी पड़ी होली की रौनक !

0
21

इस त्योहार की धूम सबसे ज्यादा मथुरा-वृंदावन में देखने को मिलती है लेकिन अब इस कहर के आगे वहां भी होली के रंग फीके पड़ते नजर आ रहे हैं।

रंगों के त्योहार होली को आने में अब कुछ ही दिन शेष है लेकिन लोगों के चेहरे पर इसे लेकर पहले जैसी चमक नजर नहीं आ रही। देशभर में अपना कहर बरसा रहे कोरोना वायरस ने ऐसे समय में दस्तक दी है जब लोग रंग के नशे में डूबने के लिए बेताब है। हालांकि, इस त्योहार की धूम सबसे ज्यादा मथुरा-वृंदावन में देखने को मिलती है लेकिन अब इस कहर के आगे वहां भी होली के रंग फीके पड़ते नजर आ रहे हैं। यहां इस्कॉन मंदिर की ओर से विदेशी नागरिकों के लिए कुछ एक नियम लागू किए गए हैं जिनका पालन उन्हें करना पड़ेगा। मथुरा के वृंदावन इस्कॉन टेंपल के पीआरओ सौरभ दास ने गुरुवार को इसकी जानकारी देते हुए कहा, “विदेशी नागरिकों से अपील करते हैं कि आप दो महीने के लिए मंदिर का दौरा ना करें. अगर कोई विदेशी नागरिक मंदिर का दौरा करना चाहता है, तो उसे मेडिकल सर्टिफिकेट दिखाना होगा”।

Coronavirus: इंदौर-भोपाल में होने वाली आईफा अवॉर्ड सेरेमनी टाली

बता दें कोरोना के बढ़ते कहर के बाद कई जगहों पर होली का रंग फिका हो गया है लेकिन कई जगहों पर लोगों का होली के लिए जोश इस वायरस के आगे भारी पड़ता दिखाई दे रहा है। लोग इस वायरस से अपनी सुरक्षा को ध्यान में रखते इस त्योहार का आनंद उठा रहे हैं। लोग पानी वाली होली के रंगों की बजाय खुखे गुलाल के साथ पहले की पारंपरिक होली मना रहे है। इससे ना सिर्फ वो वायरस के बचे रहेंगे बल्कि उनकी त्वचा पर भी किसी तरह का कोई रिएक्शन नहीं होगा।

ऐसे मनाए सेफ होली, अपनाएं ये टिप्स

  • पानी वाली होली से बनाएं दूरी।
  • सूखी होली आपको संक्रमण से बचाने में कारगर।
  • भीड़ में जाने से बचे, घर में ही दूसरो के साथ होली खेलें।
  • बाहर से जो लोग आपके साथ होली खेलने आ रहे हैं तो उनके संपर्क में आने से पहले उन्हें सेनेटाइजर इस्‍तेमाल करने को दें।
  • इस बात का पूरी तरह से ध्यान रखें कि मास्‍क पहनना गलती से भी न भूलें।
  • बाजार की बनी मिठाईयों के इस्तेमाल की जगह घर पर मिठाईयों का इस्तेमाल करें।

Corona Virus के ये है लक्षण, ऐसे करें बचाव

सरकार ने एहतियात बरतने की अपील की

बता दें, सरकार की ओर से इस वायरस के बढ़ते कहर के बाद एहतियात बरतने की अपील की है। प्रधानमंत्री, गृहमंत्री समेत कई नेताओं ने होली को लेकर आयोजित मिलन समारोह से दूर रहने की घोषणा कर दी है। तो वहीं राजधानी दिल्ली और आसपास के क्षेत्रों में भी बच्चों में होली को लेकर पहले जैसा रोमांच नहीं है। जहां पहले इस त्योहार पर कुछ दिन पहले से ही इमारतों की छतों और बालकनी से बच्चे राहगीरों पर पानी भरे गुब्बारे फेंककर आनंद उठाते थे तो वहीं इस बार बच्चे ऐसी शरारत करने से भी बच रहे हैं।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं