कोरोना वायरस लॉकडाउन में बढ़े घरेलू हिंसा के मामले

0
48

दुनियाभर में कोरोना वायरस के मामले बढ़ते जा रहे हैं। जिस कारण देशभर में लॉकडाउन लागू कर दिया गया है। तो इसी बीच घरेलू हिंसा के मामले भी हर रोज बढ़ते जा रहे है।

कोरोना वायरस से देशभर में मौत को आकड़े बढ़ते जा रहे हैं। वायरस से लड़ने के लिए सरकार ने पूरे देश में 21 दिन का लॉकडाउन जारी कर दिया हैं। तो वहीं इसी बीच एक चौंका देने वाली खबर सामने आई है। बता दें कि लॉकडाउन के दौरान घरेलू हिंसा के मामले बढ़ते जा रहे हैं। राष्ट्रीय महिला आयोग के मुताबिक, लॉकडाउन के दौरान घरेलू हिंसा की शिकायतें तेजी से बढ़ रही हैं। करीब एक हफ्ते में ही राष्ट्रीय महिला आयोग को 250 से ज्यादा शिकायतें मिल चुकी हैं। इसमें से 69 घरेलू हिंसा की हैं। आयोग के मुताबिक, यह आंकड़ा अब बढ़ ही रहा है।

क्या है घरेलू हिंसा, कैसे करें इससे खुद का बचाव

साथ ही महिला आयोग की चेयरपर्सन रेखा शर्मा से बातचीत के दौरान उन्होंने बताया कि ये मामले और ज्यादा होंगे, लेकिन कई शिकायत ही नहीं करती होंगी क्योंकि उस दौरान मारपीट करनेवाला उनके सामने ही रहता होगा। रेखा ने बताया कि ‘25 मार्च से 1 अप्रैल तक 69 शिकायतें आई हैं। कई महिलाएं इसलिए भी शिकायत नहीं करती हैं कि अगर उनके पति को पुलिस ले गई तो सास-ससुर उन्हें ताने देंगे’।

स्त्रियों के खिलाफ हिंसा को अपनी कला से इस तरह मात देती है ये…

लॉकडाउन की इस समय अवधि में राष्ट्रीय महिला आयोग के पास देशभर से शिकायतें पहुंची हैं। सबसे ज्यादा शिकायतें उत्तर प्रदेश से मिली हैं। आपको बता दें कि भी तक यूपी से 90 शिकायतें, दिल्ली से 37 शिकायतें, बिहार से 18, मध्यप्रदेश से 11 और महाराष्ट्र से 18 शिकायतें दर्ज हुई हैं। तो वहीं लॉकडाउन की स्थिति बनने से पहले यूपी से केस की संख्या 36, दिल्ली से 16, बिहार से 8, मध्यप्रदेश से 4 और महाराष्ट्र से 5 शिकायतें आईं थी। तो दूसरी ओर दुनियाभर में भी लॉकडाउन के कारण तलाक के मामले काफी बढ़ गए है।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है