देश में पहली बार कोरोना से डॉक्टर की हुई मौत

इंदौर में मरने वाले मरीजों की संख्या 22 है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. प्रवीण जडिया ने गुरुवार को प्रेस को बताया कि गुरुवार सुबह एक डॉक्टर की मौत हो गई।

Madhya Pradesh (मध्य प्रदेश) के इंदौर में Coronavirus (कोरोना वायरस) संक्रमण के कारण एक डॉक्टर की मौत हो गई है। इस तरह, इंदौर में मरने वाले मरीजों की संख्या 22 है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी Dr. Pravin Jadia (डॉ. प्रवीण जडिया) ने गुरुवार को प्रेस को बताया कि गुरुवार सुबह एक डॉक्टर की मौत हो गई । इस तरह, यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 22 है।

इंदौर: कोरोना की जांच के लिए पहुंची टीम पर हमला करने वाले 4 लोगों…

बुधवार को छह मरीजों की मौत हो गई, वहीं 40 नए मरीज मिले हैं और मरीजों की संख्या 213 रही है। सूत्रों का कहना है कि डॉक्टर Coronavirus (कोरोना वायरस) से संक्रमित मरीजों का इलाज नहीं कर रहे थे। बताया जा रहा है कि कोरोना संक्रमित मरीज उनके संपर्क में आ सकता है, जिससे वे संक्रमित हो सकते हैं। उन्हें दो दिन पहले अस्पताल में भर्ती कराया गया था। लेकिन गुरुवार सुबह उनका निधन हो गया।

इंदौर में तीन बच्चे कोरोना पॉजिटिव, उम्र 3,5,8 साल

62 वर्षीय जनरल फिजिशियन Dr Shatrughan Panjwani  (डॉ. शत्रुघ्न पंजवानी) को चार दिन पहले कोरोना संक्रमित पाया गया था। इस खतरनाक वायरस से संक्रमण से किसी डॉक्टर की मौत का देश में यह पहला मामला है। स्वास्थ्य विभाग के सीएमएचओ, Dr. Pravin Jadia (डॉ. प्रवीण जडिया) ने बताया है कि डॉ. शत्रुध्न पंजवानी को पूर्व में कोरोना संक्रमित पाया गया था और उनका इलाज पहले गोकुलदास में चल रहा था। फिर उन्हें सीएचएल और फिर अरविंद में भर्ती कराया गया। उसकी हालत गंभीर थी, आज सुबह उसकी मौत हो गई। डॉ. पंचवानी इंदौर के रूपाराम नगर में रहते थे। वहीं डॉक्टर की मौत पर CM Shivraj Singh Chouhan (मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान) और पूर्व मुख्यमंत्री Kamal Nath (कमलनाथ) ने ट्वीट किया और दुख व्यक्त किया।

कोरोना वायरस: इंदौर में बदले कलेक्टर और DIG, मनीष सिंह बने कलेक्टर

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है