आज न करें अप्रैल फूल मनाने की कोशिश वरना...

सावधान! अप्रैल फूल के ट्रेडिशन को इस साल न करें फॉलो !

आज 1 अप्रैल यानि कि अप्रैल फूल बनाने का दिन है लेकिन अगर आप महाराष्ट्र में हैं तो हो जाइए सावधान वरना अप्रैल फूल बनाना आपको पड़ जाएगा भारी। जी हां 1 अप्रैल को लोग हंसी-ठिठोली के लिए अप्रैल फूल मनाते हैं और लोगों को बेवकूफ बनाते हैं। कभी-कभी ये मज़ाक हंसी-ठिठोली तक ही सीमित रहता है तो कभी-कभी कुछ मज़ाक का लोगों का खामियाज़ा भी भुगतना पड़ जाता है। जैसा कि कोरोना के संकट से इस वक्त देश में कोहराम मचा हुआ है। ऐसे में कोई भी ऐसा मज़ाक आपको नहीं करना चाहिए जो इस संकट को और अधिक बढ़ा दे और आपको भी अप्रैल फूल मनाने का खामियाज़ा भुगतना पड़े। अप्रैल फूल न मनाने को लेकर महाराष्ट्र प्रशासन ने सख्त हिदायत दे रखी है।

एबीस्टार की पहल पर सांसद ने दिया Viraj Profiles Ltd पर…

महाराष्ट्र में अप्रैल फूल मनाया तो सजा भुगतने के लिए रहें तैयार

अप्रैल फूल बनाने के लिए सोशल मीडिया पर तरह-तरह के प्रैंक और मैसेज का इस्तेमाल किया जाता है लेकिन क्या आपको पता है कि इस साल महाराष्ट्र में अप्रैल फूल मनाना पूरी तरह से प्रतिबंधित है ?महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने सख्त हिदायत के साथ आदेश दिया है कि किसी भी तरह का प्रैंक करने वालों, सोशल मीडिया पर मैसेज के माध्यम से अफवाह फैलाकर फूल बनाने वालों के खिलाफ साइबर क्राइम के तहत कार्रवाई की जाए। पुणे पुलिस दो दिन पहले ही लोगों को अप्रैल फूल न मनाने के लिए आगाह कर चुकी है। इसके साथ ही आपको बता दें प्रतिबंध के बावजूद अप्रैल फूल मनाने, किसी भी प्रकार की अफवाह मजाक के रूप में फैलाने पर धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी। सीएम उद्धव ठाकरे के बेटेराज्य के पर्यटन और पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे ने भी ट्वीट कर लोगों से अप्रैल फूल न मनाने की अपील की है।

Google भी नहीं मनाएगा अप्रैल फूल

साल 2000 से अब तक गूगल कंपनी अप्रैल फूल पर तरह-तरह के जोक्स बनाती थी लेकिन इस बार गूगल अप्रैल फूल नहीं मनाएगा। गूगल कंपनी इस साल कोरोना महामारी से जूझ रहे सभी लोगों के सम्मान और सुरक्षा के लिए अप्रैल फूल नहीं मना रही है।

अब डीएम और एसपी कसेंगे कोविड-19 पर शिकंजा

अफवाहों को न बनाएं Fool बनाने का माध्यम

आज 1 अप्रैल को फूल मनाने के लिए लोग कई तरह के झूठ और अफवाहों के माध्यम से एक-दूसरे को बेवकूफ बनाते हैं लेकिन इस बार कोरोना महामारी की जंग लड़ रहे देश में सोशल मीडिया पर फैली एक भी अफवाह कितना घातक साबित हो सकती है इसका अंदाजा लगाना भी मुश्किल हैं। महाराष्ट्र में अप्रैल फूल मनाने पर बैन लग चुका है और उल्लंघन करने वालों पर कार्रवाई तक हो सकती है। ऐसे में किसी भी प्रकार की अफवाह को मजाक का माध्यम बनाने से बचना है जिससे कोरोना की जंग लड़ रहे देश की स्थिति और अधिक न बिगड़े। हम सभी को संकल्प लेना चाहिए कि इस साल कोरोना महामारी के जिस संकट से हमारा देश जूझ रहा है। इस दौरान हम इस साल अप्रैल फूल न मनाएं क्योंकि आपका एक मजाक लोगों की जान के लिए खतरा भी बन सकता है इसीलिए किसी की परेशानी का सबब बनने से अच्छा है इस मुश्किल घड़ी में किसी के हितैषी बनें।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं