परमाणु हथियार से भी ज्यादा खतरनाक के है कोरोना वायरस!

0
363

ऐसे में इस वायरस को बहुत से लोग सोशल मीडिया पर परमाणु वायरस तक कह रहे हैं।

नई दिल्ली:  आज पूरी दुनिया जिस वायरस से डरी हुई है उसका नाम बताने की जरुरत नहीं है। जी हां हम बात कर रहे हैं कोरोना वायरस की जो अब तक तैतीस सौ से ज्यादा लोगों को मौत की नींद सुला चुका है। दुनिया के अधिकतर देश आज परमाणु संपंन्न है और कई देश तो इसकी धमकी भी देते रहते हैं। ऐसे में इस वायरस को बहुत से लोग सोशल मीडिया पर परमाणु वायरस तक कह रहे हैं।

चीन से प्राकट्य हुए इस गंभीर बिमारी का अब तक कोई भी एंटी डॉट नहीं मिला है। दुनिया की जानी-मानी स्वास्थ्य संगठन डब्ल्यूएचओ ने साफ तौर पर इस वायरस को लेकर कहा है कि इस मर्ज का अभी तक कोई भी तोड़ सामने नहीं आया है। लिहाजा मेडिकल साइंस इसपे काम कर रहा है।

कोरोना वायरस से जुड़ा ताजा मामला हिन्दुस्तान से है। जहां पर दो व्यक्तियों को डाक्टरों ने कोरोना से ग्रसित बताया है। एक इटली से इस मर्ज को लेकर आया है तो दूसरा दुबई से।  मंत्रालय ने ये भी कहा है कि कोरोना से पीड़ित दोनों मरीजों की स्थिति ठीक है। वे डॉक्टरों की निगरानी में हैं। साथ ही दोनों मरीजों की विदेश यात्रा की जानकारी हम ले रहे हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक दिल्ली और तेलंगाना में एक-एक मरीज में कोरोना की पुष्टि हुई है। फिलहाल कोरोना को लेकर भारत अभीतक अपने लोगों को जागरुक कर रहा था, लेकिन अब दो मरीज भी सामने आ गए हैं। इससे पहले भारत में कोरोना वायरस के एक मरीज का पता चला था। तब मरीज की लगातार जांच होने के बाद रिपोर्ट सामन्य होने के बाद हॉस्पिटल से डिस्चार्ज कर दिया गया था। कुल मिलाकर चीन से शुरु हुए इस गंभीर बिमारी को लेकर दुनिया के तमाम देशों में चिंता की लकीरें बनी हुई हैं।

कोरोना वायरस का इलाज सिर्फ और सिर्फ साफ-सफाई और जागरुकता ही है।