कोरोना: सेल्फ आइसोलेशन नियम तोड़ने पर तीन लोगों को जेल

कोरोना के कहर के कारण लोगों को घर में रहने के लिए कहा गया है। इस बीच सेल्फ आइसोलेशन नियम तोड़ने पर तीन लोगों को जेल भेजा गया है।

कोरोना वायरस का कहर समय के साथ ही विकराल रूप अखितयार करता जा रहा है। कोरोना के इस बढ़ते कहर के कारण लोगों को इस वायरस से खुद को बचाने के लिए घर में रहने के लिए कहा गया है। लेकिन बावजूद इसके लोग सेल्फ क्वॉरेंटाइन नियम का पालन ठीक ढंग से नहीं कर रहे। जिसके कारण अब अपने नागरिकों को इस घातक वायरस से बचाने के लिए कई देशों ने अब सख्त से सख्त कदम उठाना शुरू कर दिए हैं। कुछ ऐसा ही मामला सामने आया है सर्बिया में, जहां उन लोगों पर मुकदमा चलाकर उन्हें सजा देने का काम शुरू कर दिया है जो सेल्फ क्वॉरेंटाइन नियम का पालन ठीक ढंग से नहीं कर रहे हैं।

भारत सरकार ने कोरोना को मात देने के लिए लॉन्च किया, कोरोना कवच एप

ताजा मामले में तीन को तीन साल तक की सजा सुनाई गई है जिन्होंने सेल्फ आइसोलेशन नियम को तोड़ा। बता दें, वायरस के बढ़ते कहर के कारण सर्बिया ने पूरे देश में आपातकाल घोषित किया हुआ है। इस महामारी (कोविड- 19) को लेकर जरूरी नियमों को कड़ाई से अपना रहा है। यहां अब तक 528 लोग इस बीमारी की चपेट में आ चुके हैं वहीं 8 लोगों की मौत हो चुकी है।

स्थानीय न्यूज पोर्टल जुजने वेस्टी के मुताबिक, “ये तीनों नागरिक विदेश यात्राओं से स्वदेश लौटे थे और इस महामारी के चलते जारी मेडिकल नियमों के मुताबिक उन्हें 14 से 28 दिन सेल्फ-आइसोलेशन में ही रहना था।” सजा मिले इन तीनों नागरिकों को अलग-अलग स्थानों पर नियमों का उल्लंघन करते पकड़ा गया, जिसके बाद स्थानीय पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया। हिरासत में लिए गए तीन में से एक व्यक्ति निस के दक्षिणी टाउन का है, जिसे तीन साल की सजा मिली, जबकि बाकी दो पोजारवाक के पूर्वी टाउन के थे, जिनमें से एक को दो साल और दूसरे ढाई साल की सजा दी गई है।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं