केंद्र सरकार का नया फरमान- राज्यों और जिले के बॉर्डर किए जाए सील

केंद्र ने कहा कि यदि किसी भी छात्रों और मजदूरों को घर खाली करने के लिए कहा जाएगा तो उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए।

Lockdown (लॉकडाउन) को लेकर केंद्र सरकार ने सभी राज्यों को सख्ती से पालन करने का आदेश दिया है। इसे लेकर केंद्र ने राज्यों को कहा है कि प्रवासी मजदूरों के लिए हर संभव कोशिश करे और इनके लिए सारे इंतजाम किए जाएं, जहां वो लोग मौजूद हैं। इसके बाद केंद्र ने ये भी कहा कि सभी मजदूरों को वक्त पर वेतन दिया जाए। केंद्र ने ये भी कहा कि यदि किसी भी छात्रों और मजदूरों को घर खाली करने के लिए कहा जाएगा तो उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए।

कोरोना: तिहाड़ जेल प्रशासन ने 400 से ज्यादा कैदियों को…

केंद्र ने कहा कि राज्य और जिले के सभी बॉर्डर को पूरी तरह से सील कर दिया जाए ताकि लोग एक राज्य से दूसरे राज्य या फिर एक जिले से दूसरे जिले में मूवमेंट न कर सके। और हाईवे पर भी किसी तरह की कोई मूवमेंट न होने दी जाए। वहीं केंद्र ने ये भी कहा है कि लॉकडाउन का पूरी तरह से पालन करना जिले के डीएम और एसपी की जिम्मेदारी है।

दुनियाभर में कोरोना वायरस का बढ़ता प्रकोप, इन देशों में तेजी…

बता दें कि लॉकडाउन को लेकर केंद्र सरकार ने आज यानी 29 मार्च को कई महत्वपूर्ण कदम उठाए है।  केंद्र सरकार ने सभी रज्यों की सरकार को लॉकडाउन का पालन सख्ती से करने को कहा है। सभी राज्यों, केंद्र शासित प्रदेश के चीफ सेक्रेटरी और डीजीपी की ओर से ये भी कहा गया है कि सभी जरूरी वस्तुओं की सप्लाई अच्छे ढ़ग से आम जनता तक पहुंचाई जाए। वहीं सड़को पर सभी दिहाड़ी मजदूरों के मूवमेंट को देखते हुए राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को ये आदेश दिया गया है की बॉर्डर को हर तरफ से सील किया जाए। राज्यों और जिले की भी सीमा को सील कर दिया जाए।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं