जानें, क्या गले में खराश कोरोना वायरस का लक्षण है?

सामान्य वायरल से मिलते जुलते लक्षणों के कारण कोरोना को पहचानने में काफी परेशानी हो रही है ऐसे में जानें, क्या गले में खराश कोरोना का लक्षण है?

पूरी दुनिया में अपना कहर बरसा रहे कोरोना के भारत में मामले लगातार बढ़ रहे हैं। इस बीच लोगों को घर में रहने के लिए कहा गया है। ऐसे में आज हम आपको बता रहे हैं कोरोना से जुड़ी कुछ ऐसी खास खास जानकारी जिससे आप इसे आसानी से पहचान सकते हैं साथ ही अपनी सुरक्षा भी कर सकते हैं।

क्या हैं कोरोना वायरस के लक्षण?

कोरोना वायरस के लक्षण आम सर्दी-जुकाम की तरह ही होते हैं जैसे- गले में खराश होना, सूखी खांसी और बुखार आना। वायरल से मिलते-जुलते लक्षणों की वजह से लोगों को कोरोना और आम सर्दी-जुकाम में फर्क करना मुश्किल हो रही है। WHO की एक रिपोर्ट के मुताबिक, बुखार, सूखी खांसी, सांस की तकलीफ, थकान, थूक बनना, गले में खराश, सिरदर्द, लकवा या गठिया, ठंड लगना, बंद नाक, दस्त, मिचली या उल्टी, खांसी में खून आना कोरोना वायरस के अन्य लक्षण हैं।

ये 15 चीजें रखेंगी आपको रोगों से दूर, डाइट में करें

डॉक्टर्स क्या कहते हैं ?

दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल के डॉक्टर अनिल कुमार राय की माने तो, ‘थकान, सांस लेने में तकलीफ, छाती में बलगम, जकड़न या भारीपन के साथ खांसी आ रही है तो ये कोरोना वायरस के लक्षण हैं”। हालांकि सामान्य वायरस और सर्दी में भी इसी तरह के लक्षण होते हैं और यही लक्षण H1N1वायरस (स्वाइन फ्लू) के भी थे।

क्या गले में खराश कोरोना वायरस का लक्षण है?

गले में खराश कोरोना का एक लक्षण हो सकता है। इस वायरस के लक्षण 2 से 10 दिनों के बीच दिखने शुरू होते हैं। लक्षण देरी से देखने की वजह से लोग बाहर से बीमार नहीं लगते लेकिन यह संक्रमण लोगों में आसानी से फैल रहा है।आपको बता दें, WHO इस बीमारी को महामारी घोषित कर चुका है। भारत के खिलाफ लोगों को सचेत करने के लिए WHO की तरफ से कई तरह की पहल की जा रही है। जिससे की लोग इस वायरस के चपेट में आने से बचें।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं