क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट को भारत के इस जादूगर ने कहा अलविदा

0
17

जाफर ने 31 टेस्ट मैचों में भारत के लिए 34.11 की औसत से 1944 रन बनाए हैं। उन्होंने टेस्ट करियर में एक दोहरा शतक, पांच शतक और 11 अर्धशतक जड़े।

भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज वसीम जाफर ने क्रिकेट को अलविदा कहने का फैसला किया है। जिसके बाद उनके फैंस काफी मायूस हैं। भारत के घरेलू क्रिकेट में रनों की बारिश करने वाले जाफर ने क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट से संन्यास लेने की घोषणा कर दी है। दो दशक तक क्रिकेट मैदान में जलवा देखाने वाले जाफर के करियर का इसी के साथ अंत हो गया है।टेस्ट मैचों में उन्होंने भारत की तरफ से बेहतरीन बल्लेबाजी की है। जाफर ने 31 टेस्ट मैचों में भारत के लिए 34.11 की औसत से 1944 रन बनाए हैं। उन्होंने टेस्ट करियर में एक दोहरा शतक, पांच शतक और 11 अर्धशतक जड़े। वसीम जाफर भले ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कुछ कमाल करने में कामयाब ना हुए हो।

भारत-पाकिस्तान बहुत जल्द क्रिकेट मैदान में होंगे आमने-सामने, एशिया कप में भिड़ेंगी दोनों टीमें

लेकिन लेकिन डोमेस्टिक क्रिकेट में उन्होंने अपने मेहनत के दम पर शानदार प्रदर्शन किया। फर्स्ट क्लास क्रिकेट में जाफर ने 50.67 की औसत से 19,410 रन बनाए। उन्होंने 57 शतक और 91 अर्द्धशतक जड़े हैं। भारत के लिए जाफर ने 2 अंतरराष्ट्रीय वनडे मैच भी खेले हैं। आपको बता दें, जाफर ने अपना आखिरी मैच 2008 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेला था। वसीम जाफर ने क्रिकेट से संन्यास लेते हुए कहा, मैं अल्लाह का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं कि उसने मुझे शानदार खेल खेलने की प्रतिभा दी। इसी के साथ मैं अपने परिवार और करीबियों को भी धन्यवाद देना चाहता हूं, जिन्होंने मुझे हमेशा सपोर्ट किया। जाफर ने आगे कहा कि सचिन, द्रविड, गांगुली और धोनी जैसे बल्लेबाजों के साथ ड्रैसिंग रूम साझा करना मेरे लिए सम्मान की बात है।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं