सौराष्ट्र की टीम ने पहली बार रणजी ट्रॉफी पर कब्जा कर रचा इतिहास

सौराष्ट्र ने जहां पहली पारी में 425 रन बनाए तो वहीं बंगाल 381 रन ही बना सकी। दूसरी पारी में सौराष्ट्र 44 रनों की बढ़त के आधार पर क्रिकेट के मैदान में उतरी।

सौराष्ट्र की टीम ने रणजी ट्रॉफी में धमाका करते हुए टूर्नामेंट का खिताब पहली बार अपने नाम किया। शुक्रवार को खेले गए फाइनल मैच के पांचवे दिन पहली पारी में मिली बढ़त के आधार पर सौराष्ट्र की टीम ने खिताब पर कब्जा किया है। सौराष्ट्र ने फाइनल मुकाबले में बंगाल की टीम को मात दी।

सौराष्ट्र ने जहां पहली पारी में 425 रन बनाए तो वहीं बंगाल 381 रन ही बना सकी। दूसरी पारी में सौराष्ट्र 44 रनों की बढ़त के आधार पर क्रिकेट के मैदान में उतरी। मैच के आखिरी दिन सौराष्ट्र ने 4 विकेट खोकर 105 रन बनाकर मैच पर अपनी पकड़ मजबूत कर ली। इसी के साथ रणजी ट्रॉफी पर पहली बार कब्जा किया। सौराष्ट्र के कप्तान जयदेव उनादकट ने इस टूर्नामेंट में बेहतरीन प्रदर्शन किया। उन्होंने इस रणजी सीजन में कुल 67 विकेट झटके।

फाइनल मुकाबले में सौराष्ट्र के खिलाड़ियों ने दमदार प्रदर्शन किया। जहां पहली पारी में अर्पित वासवाडा ने 106 रन बनाए।  अवि बारोत ने 54 रनों की योगदान दिया और  विश्वराज जडेजा ने भी 54 रन बनाए। चेतेश्वर पुजारा ने 66 रनों का योगदान दिया था। वहीं दूसरी पारी में अवि बारोत ने 39,  हार्विक देसाई ने 21, विश्वराज जडेजा ने 17, अर्पित वासवाडा ने 3 रन बनाए और शेल्डन जैक्सन ने नाबाद 12 रनों की पारी खेली।

बता दें, सौराष्ट्र की टीम इससे पहले चार बार फाइनल तक का सफर तय कर चुकी थी। लेकिन खिताब पर कब्जा करने का मौका उन्हें पहली बार मिला है।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं