टीम इंडिया के इस पूर्व मेंटल स्ट्रेंथ कोच ने बताया धोनी और कोहली की कप्तानी में अंतर

पैडी अपटन खिलाड़ियों की मनोदशा को समझते हैं और उनसे सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करवाने में अहम भूमिका निभाते हैं। उन्होंने धोनी और कोहली की कप्तानी के बारे में बात की।

अगर हम भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और मौजूदा कप्तान विराट कोहली की बात करें तो दोनों ने ही टीम को बुलंदियों तक ले जाने के लिए खूब मेहनत की है। धोनी और विराट ने अपनी कप्तानी में टीम इंडिया के खिलाड़ियों को सही दिशा दी है। भारतीय क्रिकेट टीम के स्ट्रैंथ और मेंटल कंडीशनिंग कोच रहे पैडी अपटन ने दोनों खिलाड़ियों की कप्तानी के बारे में बात की।

पैडी अपटन खिलाड़ियों की मनोदशा को समझते हैं और उनसे सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करवाने में अहम भूमिका निभाते हैं। मीडिया से बात करते हुए अपटन ने विराट कोहली के बारे में बात की। उनके सफर के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि कोहली के फिटनेस के प्रति बदली सोच और रवैये ने उन्हें एक महान खिलाड़ी बनाया है। इसी के साथ अपटन ने कोहली और महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी के तरीकों के बारे में भी बताया।

आशीष नेहरा ने दिया BCCI को सुझाव, ऐसे करवाया जा सकता…

अपटन ने बताया कि धोनी और कोहली अगर तरह के कप्तान है। जहां एक तरफ माही शांत रहेत हैं और उनका दिमाग स्थिर रहता है वहीं कोहली भावुक हैं। उन्होंने बताया कि कोहली में उत्साह देखने को मिलता है वो उर्जावान है। मैदान में कोहली के उत्साह को देखकर इस बात का अंदाजा लगाया जा सकता है। अपटन का कहना है कि कप्तान के व्यवहार का असर खिलाड़ियों पर भी दिखता है।

Coronavirus: ACA ने अपने खिलाड़ियों की मदद के लिए दी इतनी…

भारतीय क्रिकेट टीम के इस पूर्व मेंटल स्ट्रेंथ कोच पैडी अपटन का कहना है कि खिलाड़ी जितना भावुक और अपनी भावनाओं पर काबू ना रखने वाला हो उसपर कप्तान के शब्दों और काम से उतना ही अधिक प्रभावित होता है।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है