कोच राधाकृष्णन नायर का बड़ा बयान, ओलंपिक क्वालिफिकेशन का 8 महीने टलना भारतीय एथलीटों को झटका

विश्व एथलेटिक्स ने एथलीट आयोग ने महाद्वीपीय संघों के प्रमुखों आदि से बात कर टोक्यो खेलों के क्वालिफिकेशन के समय को आगे बढ़ाने का फैसला किया है।

हर खिलाड़ी का सपना होता है कि वो ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीतकर अपने देश का नाम रोशन करे। भारतीय खिलाड़ी भी इसी सपने के साथ ओलंपिक की तैयारी करते हैं। लेकिन जिस तरह से ओलंपिक के खेलों को अगले साल कराने का फैसला किया है और ओलंपिक क्वालीफिकेशन दौर को नवंबर के आखिर तक निलंबित कर दिया है। उससे भारतीय खिलाड़ियों को झटका लग सकता है।

IOC का ओलंपिक क्वालिफाई कर चुके खिलाड़ियों को तोहफा, कोटा रहेगा…

टोक्यो ओलंपिक खेलों के लिए क्वालिफिकेशन समय छह अप्रैल से 30 नवंबर 2020 तक निलंबित कर दिया गया। ऐसे में यह फैसला उन भारतीय ट्रैक एवं फील्ड एथलीटों के लिए निराशाजनक है जो इस साल के अंत तक होने वाली घरेलू प्रतियोगिताओं के जरिये क्वालिफाई करने की आस में थे। फिलहाल इन प्रतियोगिताओं का आयोजन कब होगा यह अभी सुनिश्चित नहीं है। क्योंकि अभी देशभर में कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते लॉकडाउन जारी है।

टीम इंडिया के इस पूर्व मेंटल स्ट्रेंथ कोच ने बताया धोनी…

विश्व एथलेटिक्स ने एथलीट आयोग ने महाद्वीपीय संघों के प्रमुखों आदि से बात कर टोक्यो खेलों के क्वालिफिकेशन के समय को आगे बढ़ाने का फैसला किया है। भारत के राष्ट्रीय उप मुख्य कोच राधाकृष्णन नायर का कहना है कि इस फैसले से कई भारतीय एथलीट निराश होंगे। जिनमें अनु रानी, तेजिंदर पाल सिंह तूर, एम श्रीशंकर, दुती चंद जैसे एथलीट शामिल हैं।

कोरोना के चलते भारत में लॉकडाउन जारी

बता दें, भारत में कोरोना वायरस के मामले बढ़ रहे हैं। जिसके चलते देशभर में लॉडाउन किया हुआ है। सरकार ने सख्त रुख अपनाते हुए लोगों को घर से बाहर निकले से मना कर दिया है। गरीब हो या अमीर हर किसी को यह वायरस अपनी चपेट में ले रहा है। देश में संक्रमित लोगों की संख्या जहां 5734 तक पहुंच चुकी है वहीं मरने वालों का आंकड़ा 166 तक पहुंच गया है।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है