IPL: कोरोना के बढ़ते असर को देखते हुए सुरेश रैना का बयान, कहा- इंसान की जिंदगी से महत्वपूर्ण कुछ नहीं

जिस तरह से भारत में तेजी से कोरोना वायरस के मामले बढ़ते जा रहे हैं उसे देखकर लगता है कि आईपीएल 15 अप्रैल से भी शुरू नहीं होगा। बल्कि इस टूर्नामेंट पर अब रद्द होने की तलवार लटकने लगी है।

कोरोना वायरस का असर हर खेल पर पड़ा है। चाहे वो क्रिकेट हो या फिर हॉकी, फुटबॉल, टेनिस। दुनियाभर में कोरोना वायरस के चलते बड़े से बड़े खेलों के टूर्नामेंट को टाल दिया गया। भारत की सबसे महंगी क्रिकेट लीग यानी इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) भी इससे प्रभावित हुई। जिसे इस वायरस की वजह से टालना पड़ा।

29 मार्च से शुरू होने वाले आईपीएल को 15 अप्रैल तक टालने का फैसला किया गया। लेकिन अब जिस तरह से भारत में तेजी से कोरोना वायरस के मामले बढ़ते जा रहे हैं उसे देखकर लगता है कि आईपीएल 15 अप्रैल से भी शुरू नहीं होगा। बल्कि इस टूर्नामेंट पर अब रद्द होने की तलवार लटकने लगी है। ऐसे में चेन्नई सुपर किंग्स के बल्लेबाज सुरेश रैना का कहना है कि आईपीएल तो इंतजार कर सकता है लेकिन लोगों की जिंदगी नहीं। रैना ने यह साफ कर दिया है कि उन्हें आईपीएल का इंतजार करने में कोई दिक्कत नहीं है। क्योंकि यहां लोगों की जिंदगी का सवाल है। उनका कहना है कि सबसे ऊपर इंसान की जिंदगी का सवाल है। इससे महत्वपूर्ण कुछ नहीं है।

Coronavirus: हरभजन सिंह और रवि शास्त्री ने किया पीएम मोदी की…

बता दें, सुरेश रैना ने कोरोना वायरस से इस लड़ाई में 52 लाख रुपये दान किए हैं। इसी के साथ उन्होंने लोगों से लॉकडाउन को फॉलो करने की अपील भी है। रैना का कहना है कि हमें सरकार की बातों का पालन करना चाहिए और लॉकडाउन को मानना चाहिए। जब हालात पहले जैसे सामान्य हो जाएंगे तो हम आईपीएल के बारे में दोबारा सोचेंगे।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं