B'day Special : टीम इंडिया का वो धाकड़ बल्लेबाज जिसने अच्छे-अच्छे गेंदबाजों को पानी पिलाया

दिलीप वेंगसरकर ने 116 टेस्ट मैचों में 17 टेस्ट शतक और 35 अर्धशतक लगाए। उन्होंने टेस्ट करियर में 42.13 की औसत से 6868 रन बनाए।

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व धाकड़ बल्लेबाज और पूर्व चीफ सिलेक्टर दिलीप वेंगसरकर का आज (6 अप्रैल) बर्थडे है। दिलीप वेंगसरकर अपने दौर के धुरंधर बल्लेबाजों में शुमार रहे हैं। आज ही के दिन 1965 में दिलीप वेंगसरकर का जन्म महाराष्ट्र के राजापुर में हुआ था। 19 साल की उम्र में ही वेंगसरकर ने ईरानी ट्रॉफी मैच में दमदार 110 रनों की पारी खेली थी।

Coronavirus: स्टार फुटबॉलर नोमार अपने देश की मदद के लिए आगे…

दिलीप वेंगसरकर का नाम 70 और 80 के दशक में भारत के बेहतरीन बल्लोबाजों में शुमार था। उन्होंने अपने आक्रमक बल्लेबाजी से 1983 से लेकर 1987 तक वर्ल्ड क्रिकेट में तहलका मचा दिया था। उनके नाम कई रिकॉर्ड हैं जिन्हें सुनील गावास्कर और सचिन तेंदुलकर जैसे दिग्गज खिलाड़ी भी नहीं तोड़ पाए। दिलीप वेंगसरकर ने लॉर्ड्स के मैदान पर लगातार तीन शतक लगाए। ऐसा करने वाले वो पहले गैर अंग्रेज खिलाड़ी थे। लॉर्ड्स के मैदान के मैदान को क्रिकेट का मक्का भी कहा जाता है। उन्हें लॉड्स का बादशाह भी कहा जाता है।

इस देश में कोरोना से बिना डरे फुटबॉल का सीजन शुरू,…

अगर उनके करियर की बात करें तो दिलीप वेंगसरकर ने 116 टेस्ट मैचों में 17 टेस्ट शतक और 35 अर्धशतक लगाए। उन्होंने टेस्ट करियर में 42.13 की औसत से 6868 रन बनाए। इसी के साथ उन्होंने 129 वनडे मैच खेले। जिसमें उन्होंने 3508 रन बनाए। दिलीप सेंगसरकर का ड्राइव कमाल का था इसी के साथ वो पुल और हुक आसानी से खेल लेते थे। वह गेंदबाज को कंफ्यूज कर देते थे। बता दें, दिलीप वेंगसरकर ने भारत के लिए 10 टेस्ट मैचों की कप्तानी भी की थी। लेकिन किन्हीं अमेरिका में फेस्टिवल मैच खेलने की वजह से उन्हें यह पद छोड़ना पड़ा। दिलीप वेंगसरकर भारतीय क्रिकेट टीम के चीफ सेलेक्टर भी रह चुके हैं। उन्होंने भारत को विराट कोहली जैसी रन मशीन दी है।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है