तेज स्पीड वाला खेल ‘फॉर्मूला वन’ रेस पर भी कोरोना का असर, बिना दर्शकों के होने की उम्मीद

फॉर्मूला वन रेस का आयोजन बंद दरवाजों में कराया जा सकता है। तेज स्पीड वाले इस खेल को बिना दर्शकों के कराने का फैसला किया जा सकता है।

खेलों पर कोरोना वायरस का असर साफ देखने को मिल रहा है। दुनियाभर के आयोजन इस जानलेवा वायरस की वजह से स्थगित कर दिए गए। छोटा हो या फिर बड़ा हर टूर्नामेंट इस वायरस से प्रभावित हुआ है। टोक्यो ओलंपिक से लेकर आईपीएल तक इसी मार झेल रहे हैं। इस बीच कई टूर्नामेंट ऐसे भी हैं जिन्हें बिना दर्शकों के कराने पर विचार किया जा रहा है। इन्हीं में से एक है फॉर्मूला वन रेस।

कोच राधाकृष्णन नायर का बड़ा बयान, ओलंपिक क्वालिफिकेशन का 8 महीने…

पहले आईपीएल को बिना दर्शकों के कराने की चर्चा तेज हुई थी। लेकिन अब फॉर्मूला वन रेस का आयोजन बंद दरवाजों में कराया जा सकता है। तेज स्पीड वाले इस खेल को बिना दर्शकों के कराने का फैसला किया जा सकता है। फॉर्मूला वन मोटरस्पोटर्स के प्रबंध निदेशक रॉस ब्राउन का कहना है कि जिस तरह से कोरोना वायरस महामारी बढ़ती जा रही है जिसे देखते हुए फॉर्मूला वन रेस को बिना दर्शकों के कराने की उम्मीद है।

IOC का ओलंपिक क्वालिफाई कर चुके खिलाड़ियों को तोहफा, कोटा रहेगा…

इस सीजन में अब तक 9 रेस या तो स्थगित कर दी गई या फिर उन्हें रद्द कर दिया गया। इनमें 15 मार्च को होने वाली सीजन की पहली रेस और मई में होने वाली मोनाको ग्रां प्री भी शामिल है। फ्रेंच ग्रां प्री का आयोजन जुलाई में होने की उम्मीद है। वहीं ब्राउन का कहना है कि अगर हम जुलाई के शुरू में सीजन की शुरूआत करते हैं तो एक सीजन में हम 19 रेस करा सकते हैं।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है