ब्राजील के महान फुटबॉल खिलाड़ी रोनाल्डिन्हो की जेल से रिहाई, होटल में नजरबंद रहने के आदेश

नजरबंद रखने के आदेश का मतलब है कि अब उन्हें जेल की विकट परिस्थितियों के बजाय होटल में रहना होगा और उनसे वकील के अलावा कोई नहीं मिल सकता।

फुटबॉल खिलाड़ी रोनाल्डिन्हो को फर्जी पासपोर्ट के मामले में थोड़ी राहत मिली है। ब्राजील के इस महान फुटबॉल और उनके भाई रोबर्टे एसिस को पराग्वे के एक जज ने पुलिस हिरासत से रिहा करने का आदेश दे दिया है। इसी के साथ जज ने दोनों भाईयों को आसुनसियोन के एक होटल में नजरबंद रखने का आदेश भी दिया है। इस बात की जानकारी पराग्वे के जज ने मीडियो को दी है।

कोरोना इफेक्ट: पहलवान दिव्या काकरान कोच के घर के पास रहकर…

वहीं पुलिस ने रोनाल्डिन्हो और उनके भाई से वकील के अलावा किसी को भी मिलने की इजाजत नहीं दी है। नजरबंद रखने के आदेश का मतलब है कि अब उन्हें जेल की विकट परिस्थितियों के बजाय होटल में रहना होगा और उनसे वकील के अलावा कोई नहीं मिल सकता। पुलिस ने रोनाल्डिन्हो और रोबर्टे एसिस को पिछले महीने फर्जी पासपोर्ट के मामले में गिरफ्तार किया था। जिसके बाद इनकी रिहा करने के अनुरोध को पुलिस ने खारीज कर दिया था। जिसके चलते इस फुटबॉल खिलाड़ी को 21 मार्च को जेल में ही अपनी 40वां जन्मदिन गुजारना पड़ा।

Corona: इंग्लैंड के इस क्रिकेटर ने वर्ल्ड कप फाइनल में पहनी…

बता दें, इस वक्त पराग्वे की राजधानी में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी है। जिस वजह से यहां लॉकडाउन किया हुआ है। जज ने अपना फैसला भी सेलफोन कॉल के जरिए सुनाया। ब्राजील का यह महान फुटबॉलर और उनका भाई असुनसियन चिल्ड्रेन चैरिटी कैम्पेन में हिस्सा लेने पहुचे थे और यहां एक होटल में ठहरे थे। जहां से पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया था।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है