पंचायत चुनाव के लिए सभी राजनीतिक पार्टियों ने कसी कमर, इसबार ये हो सकते हैं समीकरण

0
44

तीन चरणों में होने वाले पंचायत चुनाव के लिए मतदान केंद्र से लेकर चुनाव आय़ोग तमाम उन पहलुओं पर ध्यान देने में लगा हुआ है, जो चुनाव के वक्त जरुरी होते हैं।

नई दिल्ली: यूपी पंचायत चुनाव 2020 का आगाज हो चुका है। उत्तर प्रदेश के तकरीबन एक लाख से ज्यादा गांवों में जनता गांव की सरकार चुनेगी। जिसके लिए लोगों ने तैयारियां भी शुरु कर दी हैं। पंचायत चुनाव 2020 भले ही अक्टूबर-नवंबर में हो लेकिन तमाम राजनीतिक पार्टियों ने बूथ स्तर पर कार्यकर्ताओं के साथ बैठक शुरु कर दी है।

तीन चरणों में होने वाले पंचायत चुनाव के लिए मतदान केंद्र से लेकर चुनाव आय़ोग तमाम उन पहलुओं पर ध्यान देने में लगा हुआ है, जो चुनाव के वक्त जरुरी होते हैं। राज्य की सत्ता से दूर सपा, बसपा और कांग्रेस ने 2022 विधान सभा से पहले अपनी जमीन को मजबूत करने के लिए पंचायत चुनाव को देखते हुए रणनीतियां बनाने में जुट गई हैं।

वहीं बीजेपी पंचायत चुनाव को देखते हुए लगातार कई बैठकें कर रही है। यूपी बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने राजधानी लखनऊ में तमाम कार्यकर्ताओं और राज्य के जिला पंचायत अध्यक्षों के साथ बैठक की। जिसमें स्वतंत्र देव ने कहा कि पं. दीनदयाल उपाध्याय के अंत्योदय के विचार से अंतिम पंक्ति के व्यक्ति तक खुशहाली के लिए पार्टी पंचायत चुनावों में सहभागिता करेगी। उन्होंने कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि वे पंचायत चुनावों में अपनी भूमिका का निर्वहन करें।

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश के राज्य निर्वाचन आयोग ने लगातार पंचायत चुनाव 2020 को लेकर प्रशासन की तरफ से तैयारियां करनी शुरू कर दी हैं। इसबार गांव के प्रधान से लेकर सदस्य जिला पंचायत, सदस्य क्षेत्र पंचायत, और सदस्य ग्राम पंचायत का चुनाव एक साथ देखने को मिल सकता है।

दो बच्चे वाले नहीं लड़ पाएंगे पंचायत चुनाव, जानिए क्यों

पंचायत चुनाव 2020 से पहले राज्य की योगी सरकार कड़े नियम बनाने जा रही है, जिसके मुताबिक दो संतानों वाले व्यक्ति पंचायत चुनाव नहीं लड़ पाएंगे। यूपी के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह जैकी ने कहा है कि विशेषज्ञों का एक दल एक मसौदा नीति का अध्‍ययन कर रहा है, जिसकी रिपोर्ट आने के बाद सरकार फैसला लेगी।

जाहिर है कि उत्तराखंड में इस तरह का प्रावधान है कि अगर आपके पास दो संताने हैं तो आपको पंचायत चुनाव लड़ने की अनुमति नहीं दी जाएगी

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं