पापों ये मुक्ति और मनोकामना पूरी करेंगा, आपका आज के व्रत

0
225
पापों ये मुक्ति और मनोकामना पूरी करेंगा, आपका आज के व्रत

हर मनुष्य की कई अधूरी-सी मनोकामनाएं होती हैं। जिसे वह पूरी करने के लिए पूरी जिंदगी बिता देते है लेकिन उनके द्वारा किए पाप उनका रास्ता रोक रहे होते है।

आज भगवान विष्णु का दिन हैं। आज कामदा एकादशी हैं। बता दें कि आज के दिन बहुत से लोग भगवान वासुदेव की पूजा अर्चना और व्रत करते हैं। धार्मिक शास्त्रों के अनुसार, कामदा एकादशी का व्रत करने वाले लोगों की सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। इस व्रत को करने से व्यक्ति के सभी पाप नष्ट हो जाते हैं। साथ ही जो भी व्यक्ति इस दिन पूरे विधि-विधान और सच्चें दिल से व्रत करता है। उसकी हर एक मनोकामना पूरी होती हैं। कामदा एकादशी हिन्दू संवत्सर की पहली एकादशी है। इस दिन पवित्र नदियों में स्नान करना बहुत फलदायक माना जाता है। तो आइए जानते हैं कब है कामदा एकादशी का धार्मिक महत्व।

अपनी परेशानियों से निजात पाना है तो विजया एकादशी के दिन करें ये उपाय…

कामदा एकादशी-

कामदा एकादशी का व्रत हर साल चैत्र माह के शुक्ल की एकादशी के दिन रखा जाता है। इस साल ये एकादशी 4 अप्रैल के दिन पड़ रही हैं। इसलिए कामदा एकादशी आज यानी 4 अप्रैल के दिन मनाई जा रही हैं। मुख्य रूप से ये मनोकामना पूरी करने और पापों से मुक्ति पाने के लिए होती हैं।

व्रत मुहूर्त

  • एकादशी तिथि प्रारंभ – 3 अप्रैल 24:55 बजे से
  • एकादशी तिथि का समापन – 4 अप्रैल 22:26 बजे तक
  • कामदा एकादशी पारणा मुहूर्त – 5 अप्रैल सुबह 06:06:14 से 08:37:19 बजे तक
  • अवधि – 2 घंटे 31 मिनट

तो अब बात कर लेते है ये एकादशी की व्रत पूजा विधि की-

  • एकादशी से एक दिन पहले यानी दशमी के दिन रात्रि में सात्विक भोजन करें।
  • इस दिन सुबह सूर्योदय से पहले उठना होता हैं।
  • शौच आदि से निवृत्त होकर स्नान करें।
  • इसके बाद एकादशी के व्रत रखने का संकल्प लें।
  • संकल्प के बाद भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा-अर्चना करें।
  • पूरे दिन भगवान विष्णु का स्मरण करें।
  • रात के समय पूजा स्थल के समीप जागरण करें। पूजा अर्चना करें।
  • एकादशी के अगले दिन यानि द्वादशी को व्रत का पारण करें।
  • एकादशी व्रत पारण मुहुर्त में व्रत खोलें।
  • व्रत खोलने के बाद ब्राह्मणों को भोजन और दान दक्षिणा दें।

कामदा एकादशी व्रत में रखें सावधानियां-

एक मंदिर ऐसा भी जहां आपको प्रसाद में मिलती है व्हिस्की, स्कॉच और बियर

  • व्रती को इस दिन गुस्से से कोसों दूर रहें
  • आज के दिन झूठ न बोले।
  • आज के दिन शारीरिक संबंध बनाने से भी दूर रहें।
  • व्रती लोग आज के दिन चावल का सेवन न करें।

AB STAR NEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है